• Home
  • Chhattisgarh News
  • Saraipali News
  • कांग्रेस ने पूछा-प्रदेश में विकास हुआ तो फिर यात्रा निकालने की क्या जरूरत
--Advertisement--

कांग्रेस ने पूछा-प्रदेश में विकास हुआ तो फिर यात्रा निकालने की क्या जरूरत

कांग्रेस की विकास खोजो यात्रा मुख्यमंत्री की यात्रा के ठीक 24 घंटे बाद सोमवार को लंबर, सागरपाली होते हुए सराईपाली...

Danik Bhaskar | May 29, 2018, 03:35 AM IST
कांग्रेस की विकास खोजो यात्रा मुख्यमंत्री की यात्रा के ठीक 24 घंटे बाद सोमवार को लंबर, सागरपाली होते हुए सराईपाली पहुुंची। कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह विकास खोजो यात्रा का स्वागत आतिशबाजी कर किया गया। मील पत्थर चौक में नुक्कड़ सभा का आयोजन किया गया। इस यात्रा के दौरान कांग्रेस के अरूण बतरा, आकाश शर्मा, जिलाअध्यक्ष आलोक चंद्राकर, प्रदेश कार्यकारिणी अध्यक्ष शिव डहरिया, पूर्व मंत्री देवेंद्र बहादुर सिंह, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष हेमसागर पटेल सहित बड़ी संख्या में एनएसयूआई और कांग्रेस के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

अरूण बतरा के कहा कि अगर ये विकास किए हैं तो इन्हें यात्रा निकालने की क्या जरूरत है, वे शासन तंत्र का उपयोग कर भाजपा का बैनर और पोस्टर बंटवा रहे हैं। आकाश शर्मा ने कहा कि आज नौजवान नौकरी के लिए तरस रहा है। दो करोड़ नौकरी देने का वादा प्रधानमंत्री ने किया था, मगर युवाओं के साथ छलावा किया गया। खाली कागजों में घोषणा कर देने से विकास नहीं होता, विकास हुआ है तो भाजपा नेताओं का हुआ है। शिव डहरिया ने कहा कि भाजपा से हर वर्ग परेशान हैं, खास करके किसान। किसानों को बोनस देने का संकल्प पत्र जारी करते हैं, मगर बोनस नहीं देते हैं, फसल बीमा के नाम से कंपनियों को लाभ पहुंचाया जा रहा है। किसानों से प्रीमियम की राशि तो ली जाती है, मगर फसल नुकसान होने पर भुगतान नहीं मिल रहा। चुनाव आने पर ही बोनस बांटा जाता है, वास्तव में किसान को परेशान किया जा रहा है। देवेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि कांग्रेस सदैव से गरीब किसान और मजदूर के साथ खड़ी रही है, आज विकास के नाम पर जो पैसे फूंके जा रहे हैं, यह सिर्फ प्रदर्शन है, वास्तविक विकास कहीं नजर ही नहीं आता है।

अायोजन

कांग्रेस की विकास खोजो यात्रा मुख्यमंत्री की यात्रा के ठीक 24 घंटे बाद सराईपाली पहुुंची, यात्रा का अग्रसेन चौक में हुआ जमकर स्वागत, मील पत्थर चौक में नुक्कड़ सभा हुई

किसानों के प्रति मुख्यमंत्री के बयान की निंदा

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि मुख्यमंत्री प्रदेश का मुखिया होता है। वह किसी भी राजनीतिक दल का हो उसका व्यवहार जनता, किसानों के लिए समान होना चाहिए। लेकिन मुख्यमंत्री का कहना कि कांग्रेसी बोनस राशि न लें, निंदनीय है।

सराईपाली. मील पत्थर चौक में हुई नुक्कड़ सभा में शामिल एनएसयूआई और कांग्रेस के कार्यकर्ता।