Hindi News »Chhatisgarh »Sukma» मां चि‍टमिट्टीन देवी के दर्शन के लिए पहुंचे श्रद्धालु

मां चि‍टमिट्टीन देवी के दर्शन के लिए पहुंचे श्रद्धालु

जिला मुख्‍यालय से 9 किमी दूर रामाराम गांव में मंगलवार को ऐतिहासिक मेला भरा। यहां मां चि‍टमिट्टीन देवी के दर्शन के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 07, 2018, 02:30 AM IST

जिला मुख्‍यालय से 9 किमी दूर रामाराम गांव में मंगलवार को ऐतिहासिक मेला भरा। यहां मां चि‍टमिट्टीन देवी के दर्शन के लिए हजारों की संख्‍या में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। सुकमा राजा मनोज देव व राजपरिवार के सदस्‍यों द्वारा सबसे पहले सुबह देवी मां की विधि-विधान से पूजा-अर्चना की गई। इसके बाद लोगों द्वारा मांई के दर्शन व पूजा-अर्चना करने का सिलसिला शुरू हुआ, जो देर शाम तक जारी रहा। दोपहर बाद श्रद्धालुओं की भीड़ ऐसी उमड़ी की मंदिर परिसर व उसके बाहर पैर रखने के लिए जगह नहीं थी।

जिले के गांव-गांव से देवी-देवता, लाट, भैरम, सिरहा, मांझी, मुखिया, चालकी एवं पुजारी रामाराम मेले में पहुंचे थे। इस बार बारसूर से बारह भुजा देवता भी मेले में शामिल हुए। मेला स्‍थल पर बने सांस्कृतिक मंच में ओडिशा के तितलागड़ से संबलपुरी डांस ग्रुप के अलावा जगदलपुर समेत विभिन्‍न स्थानों से आए डांस ग्रुप ने नृत्य की प्रस्‍तुति दी।

नहीं मिली प्रशासनिक मदद

रामाराम मंदिर ट्रस्‍ट के अध्‍यक्ष मनोज देव ने बताया कि मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन के लिए जिला प्रशासन द्वारा एनएमडीसी के सीएसआर मद से मंदिर ट्रस्‍ट को राशि मुहैया कराई जाती रही है।

बीते साल 6 लाख 45 हजार रुपए की राशि ट्रस्‍ट को दी गई थी। इस साल जिला प्रशासन ने फंड नहीं होने की बात कहकर राशि ट्रस्‍ट को जारी नहीं की। मनोज देव ने प्रशासन द्वारा मंदिर ट्रस्‍ट को सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए राशि उपलब्‍ध नहीं कराने के निर्णय को गलत कदम बताते हुए कहा कि रामाराम मेला दक्षिण बस्‍तर का प्रसिद्ध ऐतिहासिक मेला है।

सुकमा. रामारामिन मंदिर मां चि‍टमिट्टीन देवी के दर्शन के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sukma

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×