Hindi News »Chhatisgarh »Sukma» स्वास्थ्य के क्षेत्र में होलिस्टिक अप्रोच लागू किया जा रहा : नड्डा

स्वास्थ्य के क्षेत्र में होलिस्टिक अप्रोच लागू किया जा रहा : नड्डा

राजधानी में रविवार को पं. दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्वास्थ्य विज्ञान एवं आयुष विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़ के द्वितीय...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 08, 2018, 03:25 AM IST

राजधानी में रविवार को पं. दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्वास्थ्य विज्ञान एवं आयुष विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़ के द्वितीय दीक्षांत समारोह में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा मुख्य अतिथि थे। उन्होंने दीक्षांत भाषण में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहल पर स्वास्थ्य में ‘हॉलिस्टिक एप्रोच’ अपनाया जा रहा है। साथ ही प्रिवेंटिव और प्रमोटिव हेल्थ केयर पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। सरकार पूरे देश में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के लिए सजग है, और गरीब आदमी को हर प्रकार की राहत देने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके तहत देश के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को वैलनेस सेन्टर के रूप में विकसित किया जा रहा है। इन केन्द्रों में 30 साल से अधिक उम्र के सभी व्यक्तियों का डायबिटीज, कैंसर, हाईपर टेंशन आदि बीमारियों के स्क्रीनिंग की व्यवस्था की जाएगी।

नड्डा ने कहा कि मोदी के प्रयासों से आज देश की पुरातन विद्या योग को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता मिली है। परंपरागत चिकित्सा पद्धतियों एवं मॉडर्न चिकित्सा पद्धतियों को इंटीग्रेट करने के लिए एम्स में सेन्टर फॉर इंटीग्रेटेड मेडिसिन शुरू करने की योजना है। एक मेडिकल स्टूडेंट पर सरकार बहुत बड़ी राशि खर्च करती है। यह राशि समाज से ही आती है, इसलिए मेडिकल स्टूडेंट का दायित्व बनता है कि वे समय आने पर समाज की सेवा करे। चिकित्सक भगवान का रूप होता है, उस विश्वास को चिकित्सक बनाए रखें। चिकित्सक सिर्फ बीमारी ही नहीं, बीमार व्यक्ति का भी इलाज करें, उन्हें परीक्षण और उचित परामर्श भी दें। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सुविधा के लिए जो भी मांग आयेगी उस सभी को पूरा करने का प्रयास किया जाएगा।

अंतिम व्यक्ति के कल्याण के लिए कटिबद्ध : सीएम : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि राज्य सरकार पिछले 15 वर्षों से लगातार पं. दीन दयाल उपाध्याय द्वारा बताए गए अंत्योदय के सपने और उनके आदर्शों के अनुरूप समाज के अंतिम व्यक्ति के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। राज्य सरकार की प्राथमिकता के क्षेत्र में स्वास्थ्य प्रारंभ से ही रहा है। स्वास्थ्य का बजट, राज्य निर्माण के समय लगभग साढ़े तीन सौ करोड़ था, जो अब बढ़कर लगभग साढ़े चार हजार करोड़ हो गया है। राज्य में मेडिकल कॉलेज की संख्या 01 से बढ़कर 09 हो गई है। मेडिकल की सीटों की संख्या 100 से बढ़कर 1100 हो गई है। इसी प्रकार अन्य चिकित्सा संस्थानों की संख्या में भी वृद्धि हुई है। डॉ. सिंह ने नड्डा का राज्य की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने के लिए हरसंभव मदद करने हेतु धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों की जनता को स्वास्थ्य सुविधाएं सुनिश्चित करने के लिए शासन द्वारा पूरे देश से चिकित्सकों का चयन कर उन्हें विशेष पैकेज देकर लाया जा रहा है। इसके परिणामस्वरूप बीजापुर और सुकमा जैसे दूरस्थ जिलों में उत्कृष्ट चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध हो रही है।



डॉ. रमन सिंह ने उपस्थित विद्यार्थियों, जिन्हें आज डिग्री और गोल्ड मेडल मिले हैं, का आह्वान किया कि आप में से ही कुछ चिकित्सक मानवता के नाते स्वेच्छापूर्वक दूरस्थ क्षेत्रों में जाएं। उन्होंने कहा कि आज समाज सेवा का भी संकल्प लें और उत्कृष्ट चिकित्सक के साथ-साथ उत्कृष्ट इंसान भी बनकर दिखाएं, यही आपकी असली परीक्षा होगी।

वंचितों की सेवा करें : चंद्राकर

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अजय चन्द्राकर ने कहा कि पं. दीन दयाल उपाध्याय की ‘मानव एकात्मवाद’ की परिकल्पना को ध्यान में रखकर गरीबों एवं वंचितों की सेवा करें। उन्होंने कहा कि राज्य में गत वर्षों में अखिल भारतीय स्तर की अनेक संस्थाएं स्थापित हुई हैं। इसका लाभ आम जनता को मिल रहा है। इसके साथ ही प्रदेश को कुशल मानव संसाधन भी प्राप्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य के अनेक स्वास्थ्य कार्यक्रमों को राष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली है। समारोह के प्रारंभ में प्रदेश के प्रतिष्ठित चार चिकित्सकों पद्मश्री से सम्मानित डॉ. एके. दाबके, डॉ. एमपी. पाण्डेय, डॉ. एसआर गुप्ता एवं डॉ. आईएम सेठी का सम्मान किया गया। अतिथियों ने विश्वविद्यालय के उपरवारा स्थित नवीन भवन का बटन दबाकर लोकार्पण किया। दीक्षांत समारोह में पं. दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्वास्थ्य विज्ञान एवं आयुष विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़ के कुलपति डॉ. जीबी गुप्ता ने स्वागत भाषण दिया। इस अवसर पर राज्य के अन्य विश्वविद्यालयों के कुलपति, विश्वविद्यालय के सभी संकायों के अधिष्ठाता, प्रोफेसर और बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित थे। दीक्षांत समारोह में 26 विद्यार्थियों को 38 गोल्ड मेडल और 182 विद्यार्थियों को स्नातकोत्तर उपाधि प्रदान की गई।

केन्द्रीय मंत्री नड्डा ने रविवार को पंडित दीनदयाल उपाध्याय सभागार परिसर में 15 एंबुलेंस जनता की सेवा लिए सौंपी। इनमें से आठ एंबुलेंस प्रदेश के विभिन्न शासकीय मेडिकल कॉलेजों के लिए और 9 एंबुलेंस राजधानी के दाऊ कल्याण सिंह पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट एवं रिसर्च सेंटर के लिए है। रायपुर मेडिकल कॉलेज के लिए एक, जगदलपुर और अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज के लिए दो-दो, रायगढ़, राजनांदगांव और बिलासपुर मेडिकल कॉलेज के लिए एक-एक एम्बुलेंस दी गई।

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sukma News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: svaasthy ke ksetr mein holistik aproch laagau kiyaa jaa raha : nddaa
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sukma

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×