• Home
  • Chhattisgarh News
  • Sukma
  • उत्तरपुस्तिका जांचने 87 से 150 किमी दूर जगदलपुर तक जाएंगे जिले के शिक्षक
--Advertisement--

उत्तरपुस्तिका जांचने 87 से 150 किमी दूर जगदलपुर तक जाएंगे जिले के शिक्षक

जिला मुख्यालय दंतेवाड़ा में बोर्ड परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का केंद्र 5 साल पहले बंद कर दिया गया।...

Danik Bhaskar | Mar 14, 2018, 04:35 AM IST
जिला मुख्यालय दंतेवाड़ा में बोर्ड परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का केंद्र 5 साल पहले बंद कर दिया गया। इसके बाद से हर साल यहां के शिक्षकों को मूल्यांकन के लिए जगदलपुर बुलाया जा रहा है। इसके चलते जिले के शिक्षकों को 87 से 150 किमी दूर जगदलपुर आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दंतेवाड़ा के कन्या हायर सेकंड्री स्कूल में मूल्यांकन केंद्र संचालित होने पर जिले की शिक्षकों की ड्यूटी यहीं लगती थी। यहां बीजापुर और सुकमा जिले से भी शिक्षक बुलाए जाते थे। इस बार भी जिले में दोबारा मूल्यांकन केंद्र शुरू करने की कोई संभावना नहीं दिख रही है।

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने अब तक कोई निर्देश नहीं भेजा है। इस बारे में जिला शिक्षा अधिकारी डी समैया का कहना है कि मूल्यांकन केंद्र बंद करने का निर्णय बोर्ड का है। इस बारे में कुछ नहीं कह सकते। विभाग की ओर से इसे लेकर कोई मांग नहीं की जाती । मूल्यांकन का काम अभी शुरू नहीं हुआ है। आधे प्रश्नपत्रों की परीक्षा होने के बाद उत्तरपुस्तिकाएं रायपुर भेजी जाती हैं। यहां से ग्रेडिंग व कोडिंग के बाद उत्तर पुस्तिकाओं को जांच के लिए चिह्नित जगहों पर भेजा जाएगा।

अब तक नहीं बना कोई नकल प्रकरण

जिले में चल रही बोर्ड परीक्षा में अब तक एक भी नकल प्रकरण दर्ज नहीं हुआ है। स्थानीय परिवेक्षकों की नियमित जांच के अलावा 4 उड़नदस्ता दल भी लगातार छापामार कार्रवाई कर रहे हैं, लेकिन नकल के मामले सामने नहीं आए हैं।