• Home
  • Chhattisgarh News
  • Sukma
  • बरसात से पहले 75 फीसदी सड़कें बनाने का लक्ष्य, ऑपरेशन में भिड़ेंगी दो टीम
--Advertisement--

बरसात से पहले 75 फीसदी सड़कें बनाने का लक्ष्य, ऑपरेशन में भिड़ेंगी दो टीम

नक्सल प्रभावित इलाकों में चल रहे निर्माण कार्यों में अब तेजी आएगी। पुलिस का टारगेट है कि इस साल बारिश शुरू होने से...

Danik Bhaskar | Feb 04, 2018, 04:50 AM IST
नक्सल प्रभावित इलाकों में चल रहे निर्माण कार्यों में अब तेजी आएगी। पुलिस का टारगेट है कि इस साल बारिश शुरू होने से पहले 2018 में निर्माणों का 75 फीसदी काम पूरा कर लिया जाए। यही कारण है कि पुलिस को जिन स्थानों पर नए कैंप खोलने थे वहां कैपों की स्थापना पूरी कर ली गई है और अब संगीनों के साए में अलग-अलग स्थानों पर निर्माण कार्य तेजी से करवाने की शुरुआत की गई है। पुलिस अफसरों के अनुसार अभी सुकमा और दंतेवाड़ा जिले को जोड़ने वाली एक महत्वपूर्ण सड़क पर काम चल रहा है। इसके अलावा सुकमा के किस्टारम सहित कुछ अन्य स्थानों पर भी सड़क निर्माण करवाना है।

इन्हीं इलाकों में छोटे-छोटे पुल और पुलिए भी बनाने हैं। ऐसे में गर्मी में फोर्स दो भागों में बंटकर काम करेगी। डीआईजी सुंदरराज पी ने बताया कि फोर्स नक्सल प्रभावित इलाके में निर्माण करवाने और नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाने के लिए अलग-अलग नीतियों पर काम करती है। अभी बीजापुर, सुकमा और दंतेवाड़ा में कई सड़कों पर प्राथमिकता के साथ निर्माण करवाया जा रहा है। इसके अलावा नक्सलियों को घेरने के लिए भी बड़ी प्लानिंग की जा रही है।

नक्सलियों के खिलाफ आॅपरेशन लांच करेगी

टीम वन का काम जंगलों में ऑपरेशन लांच करना, गश्त करना, ग्रामीणों को नक्सलियों की हकीकत बताना और नक्सलियों का एनकाउंटर करना है। अलग-अलग जिलों में नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाने के लिए फोर्स को रिजर्व रखा गया है। विशेष प्रशिक्षित जवान ही नक्सलियों के खिलाफ अभियान चला रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि फरवरी के मध्य में नक्सलियों के खिलाफ तीन जिलों की पुलिस एक साथ बड़ा ऑपरेशन लांच करेगी। यह ऑपरेशन सुकमा, बीजापुर और नारायणपुर में लांच होगा।

निर्माण को सुरक्षा देकर ज्यादा से ज्यादा काम करवाना

इधर नक्सल प्रभावित इलाकों में चल रहे निर्माण कार्यों में तेजी लाने के लिए फोर्स हरसंभव मदद कर रही है। कुछ स्थानों पर नए पुलिस कैंप खोले गए हैं। कैंपों से निर्माण के लिए जवानों की विशेष ड्यूटी लगाई जा रही है। बारिश से पहले जवान अपनी सुरक्षा में निर्माण कार्यों को पूरा करवाएंगे। इसके अलावा महिला कमांडो की एक टुकड़ी को भी निर्माण की सुरक्षा में लगाया गया है।

टीम वन

टीम टू