• Home
  • Chhattisgarh News
  • Sukma
  • ग्रामीणों ने एक कलश और सोने के 178 सिक्के पुरातत्व विभाग को सौंपे
--Advertisement--

ग्रामीणों ने एक कलश और सोने के 178 सिक्के पुरातत्व विभाग को सौंपे

किंदरवाड़ा में मिले पुरातन स्वर्ण मुद्राओं को लेकर तो ग्रामीण पुरातत्व विभाग पहुंच गए। जब अलग-अलग दिनों में की गई...

Danik Bhaskar | Mar 24, 2018, 05:10 AM IST
किंदरवाड़ा में मिले पुरातन स्वर्ण मुद्राओं को लेकर तो ग्रामीण पुरातत्व विभाग पहुंच गए। जब अलग-अलग दिनों में की गई खुदाई के दौरान अलग-अलग कलश मिले और जब इसे दर्शाया गया तो एक कलश ही गायब रहा। अब सवाल यह खड़ा हो गया है कि दो कलश मिले थे तो एक कलश कहां गया। किंदरवाड़ा के ग्रामीण शुक्रवार को यहां पहुंचे और पुरातत्व विभाग को छोटे बड़े 178 सिक्के सौंपे। इनमें 143 छोटे सिक्के और 35 बड़े सिक्के हैं जिनमें एक चौकोर है।

किंदरवाड़ा के जिस ग्रामीण नीलाराम को ये कलश मिले, उसने बताया कि पहली बार में उसे एक कलश में 3 बड़ी और 21 छोटी स्वर्ण मुद्राएं मिलीं। इसके बाद दूसरी बार जब उसने खुदाई की तो एक दूसरे कलश में उसे 33 बड़ी और 122 छोटी स्वर्ण मुद्राएं मिलीं। पुरातत्व विभाग में छोटी और बड़ी स्वर्ण मुद्राओं का तौल किया गया तो बड़े सिक्कों का वजन 385.160 ग्राम और छोटे सिक्कों का वजन 261.370 ग्राम पाया गया। नीलाराम को कुल 646.53 ग्राम स्वर्ण मुद्राएं मिली हैं, जिन्हें शुक्रवार को ग्रामीणों के साथ उसने पुरातत्व विभाग के सुपुर्द कर दिया है।

पत्रकारों और नेताओं ने गायब किए सिक्के : ग्रामीणों ने अपने बयान में कहा कि सूचना मिलने के बाद सुकमा से कुछ पत्रकार और नेता भी उनके यहां पहुंचे थे, जिन्होंने कुछ सिक्के गायब किए हैं। संग्रहाध्यक्ष एएल पैकरा ने बताया कि ग्रामीणों से मिले इन सिक्कों को सुरक्षित रखवा दिया गया है। विशेषज्ञों की टीम इसकी जांच करेगी जिसके बाद ही यह पता चल पाएगा कि यह किस काल की है।

स्वर्ण मुद्राओं में लक्ष्मी की आकृति है तो कुछ में अरबी भाषा में लिखा हुआ है।