Hindi News »Chhatisgarh »Surajpur» नाली निर्माण में असमानता, व्यापारियों ने कहा कलेक्टर से- 1 हफ्ते बाद काम रोको आंदोलन

नाली निर्माण में असमानता, व्यापारियों ने कहा कलेक्टर से- 1 हफ्ते बाद काम रोको आंदोलन

भास्कर संवाददाता|बिश्रामपुर शिवनंदनपुर मुख्य मार्ग एनएच 43 पर सड़क चौड़ीकरण योजना के तहत सड़क के दोनों छोरों पर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 21, 2018, 02:30 AM IST

भास्कर संवाददाता|बिश्रामपुर

शिवनंदनपुर मुख्य मार्ग एनएच 43 पर सड़क चौड़ीकरण योजना के तहत सड़क के दोनों छोरों पर नाली निर्माण कराया गया है। परंतु ठेकेदार की मनमानी के नियमों की अनदेखी करते हुए दोनों छोरों पर नाली की सड़क से ऊंचाई अलग-अलग बना दी गई है।

एक छोर पर डेढ़ से दो फीट ऊंची नाली का निर्माण कर दिया गया जबकि नियमानुसार सड़क से नाली की ऊंचाई मात्र छह इंच ऊंपर होनी थी। इस मामले की लिखित शिकायत शिवनंदनपुर पंचायत प्रतिनिधियों एवं व्यापारी मंडल ने पूर्व में नायब तहसीलदार पिलखा उमेश कुशवाहा से कर नगर में चक्काजाम करने की चेतावनी भी दी थी। मामले को तुल पकड़ता देख नायब तहसीलदार एवं थाना प्रभारी ने पंचायत भवन में शिवनंदनपुर में बैठक आयोजित कर एनएच विभाग के समक्ष व्यापारी मंडी की मांगों को रखा था जिस पर एनएच विभाग के अधिकारियों ने मापदंड से अधिक ऊंची बनी नाली को फिर से तोड़कर कम ऊंचाई पर बनाने की बात स्वीकारी थी।

शिवनंदनपुर मुख्य मार्ग एनएच 43 पर सड़क चौड़ीकरण योजना के तहत चल रहा निर्माणकार्य

एक छोर पर डेढ़ से दो फीट ऊंची नाली बनाई, जबकि इसकी ऊंचाई सिर्फ छह इंच रखनी थी।

एक हफ्ते बाद करेंगे काम रोको आंदोलन

व्यापारी मंडल के अनुसार यदि एक हफ्ते तक प्रशासनिक अमले द्वारा नाली की ऊंचाई कम करने का सुधार कार्य नहीं कराया गया तो विवश होकर शिवनंदनपुर पंचायत प्रतिनिधि, ग्रामीण एवं व्यापारीगण एक जुट होकर काम रोको आंदोलन प्रारंभ करेंगे।

खामियां दिखने के बाद भी सुधार के नहीं दिए निर्देश

हाल ही में पिछले शनिवार को एनएच विभाग के ईई, एसई, एसडीओ एवं सब इंजीनियर सूरजपुर होते हुए शिवनंदनपुर मुख्य मार्ग पर निरीक्षण के लिए कुछ देर रुके। इस दौरान नाली निर्माण में ऊंचाई की असमानता की भी बात हुई परंतु खामियां दिखने के बावजूद एनएच विभाग के अधिकारियों ने ठेकेदार को सुधार करने हुतु कोई निर्देश नहीं दिए।

व्यापारी मंडल ने कलेक्टर से की शिकायत

मंगलवार को व्यापारी मंडल के सदस्य कृष्णा अग्रवाल, इकजोत सिंह बग्गा, सीताराम अग्रवाल, तबरेज आलम, उमेश तायल, मनोज अग्रहरि ने जनदर्शन में उपस्थित होकर कलेक्टर को पुन: शिकायत पत्र सौंपा है। शिकायत पत्र में उल्लेख है कि मापदंड से अधिक ऊंची बनी नाली से बरसात में दुकानों के भीतर पानी जमा हो जाएगा। साथ ही सड़क से दुकानों के भीतर ग्राहकों को जाने में काफी मशक्कत करनी पड़ेगी। अधिक ऊंची नाली निर्माण होने से मुख्य मार्ग और दुकानों के बीच का रास्ता अलग-अलग हो गया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surajpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×