• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Surajpur
  • सूरजपुर को बाल विवाह के रोकथाम के लिए ‘बाल गौरव सम्मान’, अब तक 117 नाबालिगों की रुकवाई शादियां
--Advertisement--

सूरजपुर को बाल विवाह के रोकथाम के लिए ‘बाल गौरव सम्मान’, अब तक 117 नाबालिगों की रुकवाई शादियां

सूरजपुर | छत्तीसगढ़ में बाल विवाह रोकने के लिए बेहतर कार्य करने पर सूरजपुर जिले को बाल गौरव पुरस्कार दिया गया है।...

Dainik Bhaskar

Jun 23, 2018, 03:10 AM IST
सूरजपुर को बाल विवाह के रोकथाम के लिए ‘बाल गौरव सम्मान’, अब तक 117 नाबालिगों की रुकवाई शादियां
सूरजपुर | छत्तीसगढ़ में बाल विवाह रोकने के लिए बेहतर कार्य करने पर सूरजपुर जिले को बाल गौरव पुरस्कार दिया गया है। इसके लिए जिला बाल संरक्षण अधिकारी मनोज जायसवाल को बाल अधिकार संरक्षण आयोग द्वारा सम्मानित किया गया।

जिला कलेक्टर केसी देवसेनापति द्वारा कार्ययोजना बना कर बाल विवाह पर प्रभावी कार्रवाई हेतु निर्देश दिए गए थे। जिला कार्यक्रम अधिकारी मुक्तानंद खूंटे के मार्गदर्शन में सूरजपुर जिले के जिला बाल संरक्षण इकाई, विभाग के परियोजना अधिकारी एवं पर्यवेक्षक एवं पुलिस विभाग की तत्परता से पूरे जिले में अब तक 117 बाल विवाह रोके गये। बाल विवाह रुकवाने या सूचना देने में ग्राम पंचायत स्तरीय बाल संरक्षण समितियों का योगदान अहम रहा। प्रत्येक वर्ष छत्तीसगढ़ बाल अधिकार संरक्षण आयोग के स्थापना दिवस के अवसार पर आयोग द्वारा बच्चों के क्षेत्र में किये जाने वाले सर्वश्रेष्ठ कार्य को बाल गौरव सम्मान से सम्मानित किया जाता है। इस वर्ष यह सम्मान छत्तीसगढ़ बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष प्रभा दुबे द्वारा आयोजित राष्ट्रीय कार्यशाला में प्रदान किया गया। सूरजपुर जिले को बाल विवाह रोकथाम हेतु पिछले वर्ष भी छत्तीसगढ़ बाल संरक्षण आयोग द्वारा ‘बाल गौरव सम्मान‘ से सम्मानित किया गया था। बाल विवाह सभी विकास खण्ड में रोके गये है। विकास खण्ड ओड़गी में 36, रामानुजनगर में 34, भैयाथान में 20, सूरजपुर में 16, प्रेमनगर में 8 एवं प्रतापपुर विकास खण्ड में 1 बाल विवाह रोके गये है। बाल विवाह रुकवाने के बावजूद चोरी छिपे विवाह करने के कारण जिले में अभी तक 8 अपराध पंजीबद्ध भी कराये जा चुके है।

X
सूरजपुर को बाल विवाह के रोकथाम के लिए ‘बाल गौरव सम्मान’, अब तक 117 नाबालिगों की रुकवाई शादियां
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..