• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Surajpur
  • बसदेई में उल्टी दस्त से और 14 ग्रामीण पीड़ित मिले, वृद्धा की इलाज के दौरान हो गई मौत
--Advertisement--

बसदेई में उल्टी-दस्त से और 14 ग्रामीण पीड़ित मिले, वृद्धा की इलाज के दौरान हो गई मौत

Surajpur News - बसदेई में उल्टी दस्त से पीड़ित एक वृद्धा की शनिवार रात मेडिकल कॉलेज अंबिकापुर में इलाज के दौरान मौत हो गई। अब तक...

Dainik Bhaskar

Jun 04, 2018, 03:35 AM IST
बसदेई में उल्टी-दस्त से और 14 ग्रामीण पीड़ित मिले, वृद्धा की इलाज के दौरान हो गई मौत
बसदेई में उल्टी दस्त से पीड़ित एक वृद्धा की शनिवार रात मेडिकल कॉलेज अंबिकापुर में इलाज के दौरान मौत हो गई। अब तक बीमारी से दो लोगों की मौत हो चुकी है। रविवार को भी प्रभावित गांव में जांच के दौरान 14 लोग उल्टी-दस्त से पीड़ित मिले हैं। इनका गांव के कैंप में इलाज चल रहा है।

उल्टी-दस्त से प्रभावित बसदेई के रजवारीपारा सहित आसपास के मोहल्लों में रविवार को भी मेडिकल टीम ने जांच अभियान चलाया। बीएमओ डाॅ. आरएस सिंह ने बताया कि गांव में स्थिति नियंत्रण में है। इस बीच सूरजपुर अस्पताल से अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज रैफर की गई 60 वर्षीय मनियारो बाई की इलाज के दौरान मौत हो गई। बसदेई में अब तक 66 लोग उल्टी-दस्त से पीड़ित मिले जिनका गांव में ही इलाज किया गया है। रविवार को बीएमओ डाॅ. सिंह के नेतृत्व में मेडिकल टीम ने 22 लोगों का चेकअप किया। इसमें 14 लोग उल्टी-दस्त से पीड़ित मिले। इनमेंे नीतू, प्रीति, गंगोत्री, पिंकी, मंगलवती, दिव्या, देवरतन, यशोदा, फुलबसिया, संतोष, धर्मेंद्र, चंदमनी, कविता एवं साेनकेलिया हैं।

अब तक बीमारी से दो लोगों की हो चुकी है मौत

बीमारी की चपेट में आए लोगाें का हाल जानने पहुंचे कलेक्टर और विधायक।

जांच में कुंआें का पानी दूषित मिला

बसदेई के रजवारीपारा सहित अासपास के मोहल्लों के कुएं का पानी प्रदूषित होने से उल्टी-दस्त का प्रकोप फैला है। पीएचई विभाग ने भी जांच में इन कुओं के पानी को दूषित बताया है, हालांकि इन कुआंें में ब्लीचिंग पाउडर डाला गया है लेकिन स्थिति को देखते हुए कलेक्टर ने यहां के पानी का ग्रामीणों को अभी उपयोग नहीं करने को कहा है। उन्होंने कहा कि गांव में लगे ट्यूबवेल एवं हैंडपंप के पानी का उपयोग करें।

विधायक और कलेक्टर ने किया गांव का दौरा

प्रेमनगर विधायक खेलसाय सिंह व कलेक्टर केसी देवसेनापति ने रविवार को जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी ली, इसके बाद वे प्रभावित ग्राम बसदेई गए। उन्होंने मेडिकल कैंप में उल्टी-दस्त पीड़ितों के इलाज के बारे में बीएमओ डाॅ. सिंह से जानकारी ली। विधायक ने इनका बेहतर इलाज करने एवं गांव में सभी की स्वास्थ्य जांच करने के निर्देश दिए।

साफ-सफाई पर ग्रामीण ज्यादा दें ध्यान

उल्टी-दस्त का प्रकोप फैलने के बाद अब गांव में साफ-सफाई के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है। कलेक्टर देवसेनापति ने निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य विभाग एवं स्थानीय लोगों को स्वच्छता पर ज्यादा जोर देने कहा। उन्होंने पीड़ितों के कपड़े सहित हाथ-पैर साबुन से धोने को कहा।

X
बसदेई में उल्टी-दस्त से और 14 ग्रामीण पीड़ित मिले, वृद्धा की इलाज के दौरान हो गई मौत
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..