--Advertisement--

दल से भटके हाथी ने सो रहे ग्रामीण को कुचलकर मार डाला

दल से अलग होकर घूम रहे एक हाथी ने गुरुवार तड़के सलका गांव में एक ग्रामीण को कुचलकर मार डाला। हाथी इसके बाद दिन भर...

Dainik Bhaskar

Jun 08, 2018, 03:45 AM IST
दल से अलग होकर घूम रहे एक हाथी ने गुरुवार तड़के सलका गांव में एक ग्रामीण को कुचलकर मार डाला। हाथी इसके बाद दिन भर परसा केते एवं मुुड़गांव इलाके में घूमता रहा। ग्रामीणों द्वारा खदेड़ने के बाद वह शाम को कांटारोली के जंगल की ओर चला गया।

गुरुवार तड़के करीब चार बजे एक हाथी सरगुजा व सूरजपुर के सरहद में स्थित सलका के आश्रित गांव प्राणपथरी आ धमका। इस दौरान घर के पास सो रहे 45 वर्षीय कृष्णा नेताम को हाथी ने कुचल कर मार डाला। घटना के बाद ग्रामीणों ने उसे खदेड़ने का प्रयास किया लेकिन वह आसपास ही डटा रहा। वन विभाग की टीम घटना के बाद लोनर हाथी को जंगल की ओर भगाने में जुटी रही। हाथी आसपास के क्षेत्र में ही भटकता रहा। काफी मशक्कत के बाद हाथी को कांटारोली जंगल की ओर खदेड़ा गया। बताया गया है कि दल से अलग होने के बाद हाथी ज्यादा खतरनाक हो गया है। घटना के बाद इलाके के ग्रामीण दहशत में हैं।

रेलवे लाइन व बिलासपुर रोड के बीच के इलाके में फंसा रहा हाथी: बताया गया कि हाथी का ग्रामीणों द्वारा रास्ता रोकने से वह इधर-उधर घूमता रहा। इस दौरान परसा केते कोयला खदान के रेलवे लाइन और बिलासपुर रोड के बीच के इलाके में घंटों फंसा रहा। रेलवे लाइन निचले इलाके में होने के कारण वह काफी मुश्किल से ऊपर चढ़ पाया। इसके बाद बिलासपुर रोड की ओर वाहनों की आवाजाही के कारण भी हाथी बेचैन रहा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..