विश्रामपुर

--Advertisement--

कोयला सचिव से चर्चा के बाद 16 अप्रैल की हड़ताल टली

कोयला सचिव से चर्चा के बाद 16 अप्रैल की हड़ताल टली विश्रामपुर| कोल इंडिया में कामर्शियल माइनिंग को लेकर ट्रेड...

Dainik Bhaskar

Apr 15, 2018, 02:45 AM IST
कोयला सचिव से चर्चा के बाद 16 अप्रैल की हड़ताल टली

विश्रामपुर| कोल इंडिया में कामर्शियल माइनिंग को लेकर ट्रेड यूनियनों द्वारा 16 अप्रैल को घोषित राष्ट्रव्यापी हड़ताल कोल सचिव से चर्चा के बाद स्थगित कर दी गई है। एक दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल को लेकर शुक्रवार को देर शाम दिल्ली में वार्ता हुई। वार्ता में कोल सचिव सुशील कुमार के अतिरिक्त कोल इंडिया के डीपी मौजूद थे। मजदूर संगठनों की ओर से एटक के रमेंद्र कुमार, बीएमएस से डा. बसंत कुमार राय, एचएमएस से नाथूलाल पांडे व सीटू से डीडी रामानंद मुख्य रूप से उपस्थित थे।

बताया गया कि बैठक में 16 अप्रैल की हड़ताल को स्थगित करने कोल सचिव ने यूनियन प्रतिनिधियों से आग्रह किया जिस पर मजदूर संगठनों की ओर से कोयला सचिव को डीपी को यह दिया गया कि कामर्शियल माइनिंग के फैसले को सरकार वापस लेगी तो ही वह हड़ताल वापस लेंगे। बाद में कामर्शियल माइनिंग को लेकर एक त्रिपक्षीय कमेटी गठित करने का फैसला लिया गया। कमेटी में कोयला मंत्रालय व कोल इंडिया के अधिकारी के अलावा ट्रेड यूनियन के पदाधिकारी शामिल रहेंगे। उक्त कमेटी कामर्शियल माइनिंग से होने वाले नफा नुकसान की सारी रिपोर्ट तैयार करेगी, जबकि कमेटी की अनुशंसा रिपोर्ट प्रस्तुत नहीं की जाएगी, तब तक सरकार की ओर से कामर्शियल माइनिंग के प्रस्ताव पर कोई कदम नहीं उठाया जाएगा। कोयला मंत्रालय वह कोल इंडिया की ओर से हड़ताल टालने आयोजित बैठक में एटक व सीटू की मांग थी कि इंटक को भी इस कमेटी में शामिल किया जाए लेकिन कोल सचिव द्वारा इसे नकार दिए जाने के कारण एटक व सीटू ने कल हुई बैठक के मिनटस पर हस्ताक्षर नहीं किया लेकिन हड़ताल स्थगित करने पर सहमति दी गई जिसके बाद हड़ताल समाप्त किया जा चुका है।

X
Click to listen..