केंद्र सरकार को प्रदेश का कोयला और बाॅक्साइट चाहिए, लेकिन किसानों का धान नहीं लेंगे: बघेल

Ambikapur News - भास्कर न्यूज| बैकुंठपुरचिरमिरी शनिवार काे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जिले के दौरे पर रहे। इस दौरान उन्होेंने...

Bhaskar News Network

Nov 10, 2019, 08:00 AM IST
Surajpur News - chhattisgarh news central government needs coal and bauxite in the state but will not take farmers39 paddy baghel
भास्कर न्यूज| बैकुंठपुरचिरमिरी

शनिवार काे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जिले के दौरे पर रहे। इस दौरान उन्होेंने चिरमिरी में 34 करोड़ के लागत की जल आवर्धन योजना का लोकार्पण किया। वहीं जिले में 63 करोड़ की नई योजनाओं का शिलान्यास कर सौगात दी। इस दौरान विधायकों की मांग पर भरतपुर के केल्हारी को तहसील बनाने और चिरमिरी में पर्यटन को विकसित करने के लिए 20 करोड़ रुपए देने की घोषणा की। इस दौरान उन्होंने चिरमिरी-मनेंद्रगढ़ को जिला बनाने की मांग पर धैर्य रखने की सलाह दी। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि केंद्र को छत्तीसगढ़ से कोयला और बाॅक्साइट तो चाहिए, लेकिन यहां के किसानों की धान नहीं चाहिए। उन्होंने किसानों को आश्वस्त किया कि धान को प्रदेश सरकार के निर्धारित कीमत पर ही खरीदा जाएगा। मुख्यमंत्री ने शनिवार को अयोध्या पर आए फैसले का सम्मान करते हुए सभी से शांति रखने की अपील की।

चिरमिरी के गोदरीपारा स्थित लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम मंे निर्धारित समय से डेढ़ घंटे की देरी से पहुंचे मुख्यमंत्री से विधायक डा. विनय जायसवाल ने चिरमिरी-मनेंद्रगढ़ को जिला बनाने की मांग की। इसके जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा अभी थोड़ा और इंतजार करें फल मीठा होगा। इसी दौरान सविप्रा उपाध्यक्ष की मांग पर भरतपुर के केल्हारी को तहसील का दर्जा देने की घोषणा की। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने ब्लाॅक सोनहत में डा. रामचंद्र सिंहदेव के नाम पर कॉलेज खोलने व चिरमिरी में डीएम फंड से एक करोड़ की लागत से एडवेंचर पार्क और पलायन रोकने के लिए 20 करोड़ रुपए पर्यटन के लिए देने की घोषणा की। आम सभा में सीएम बघेल ने कहा केंद्र सरकार ने छग का चावल लेने से इंकार कर दिया है। दिल्ली की सरकार को छग का कोयला और बाॅक्साइट चाहिए, लेकिन यहां के किसानों का धान नहीं चाहिए। फिर भी किसानों से छत्तीसगढ़ सरकार 25 सौ रुपए प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदेगी। इसके लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं। प्रदेश में धान खरीदी 1 दिसंबर से होगी। सीएम ने कहा कि छग सरकार ने 10 से 11 महीने के भीतर जो काम किया है, वह अब सभी को नजर आने लगा है। चाहे वह कर्जमाफी हो, 25 सौ रुपए क्विंटल की दर से धान खरीदी हो, बिजली बिल हाफ हो या 4 हजार प्रति मानक बोनस पर तेंदू पत्ता खरीदी हो। छग सरकार बीपीएल हो या एपीएल सभी परिवारों को 35 किलो चावल दे रही है। इससे पहले कलेक्टर डोमन सिंह ने लोकार्पण और भूमि से संबंधित जानकारी देने के साथ स्वागत भाषण दिया। वहीं विधानसभा अध्यक्ष डा.चरणदास महंत ने चिरमिरी में पर्यटन की अपार संभावना बताते हुए एडवेंचर पार्क बनाने की मांग की। इसके लिए 20 करोड़ रुपए दिया जाएगा। उन्होंने बैकुंठपुर और सूरजपुर के मध्य हवाई पट्टी निर्माण करने के साथ ही जिला अस्पताल के लिए नए भवन निर्माण कराने की मांग की।

चिरमिरी-मनेंद्रगढ़ को जिला बनाने की मांग पर धैर्य रखने को कहा

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का परंपरागत तरीके से पगड़ी पहनाकर स्वागत करते कार्यकर्ता।

ग्लोबल वार्मिंग कम होगा

सीएम ने छत्तीसगढ़ के चार चिन्हारी नरवा, गरुवा, घुरवा और बाड़ी योजना को बताते हुए कहा कि पहली बार राज्य में शुरू हुए कार्य से न सिर्फ इस योजना का फायदा लोगों को मिलेगा, इससे ग्लोबल वार्मिंग भी कम होगा।

इन कार्यों का मुख्यमंत्री ने किया लोकार्पण और भूमिपूजन

मुख्यमंत्री ने जिले की विधानसभा क्षेत्रों की विभिन्न योजनाआें का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इनमें चिरमिरी में 34 करोड 48 लाख 75 हजार रुपए की जल प्रदाय योजना, 4 करोड़ 88 लाख रुपए के 44 जीएडी भवनों का निर्माण कार्य, 10 लाख रुपए के सामुदायिक भवन एवं किलकारी उद्यान निर्माण कार्य, 42 लाख 50 हजार से दुकान निर्माण एवं सीसी रोड निर्माण कार्य एवं 29 लाख 78 हजार रुपए के खेल मैदान का सौंदर्यीकरण कार्य का लोकार्पण किया। इसके अलावा 30 करोड़ 21 लाख 43 हजार रुपए के सडक निर्माण, 4 करोड़ 94 लाख 83 हजार रुपए के स्कूल भवन निर्माण, 2 करोड़ 58 लाख 85 हजार रुपए के सीसी सडक निर्माण, 1 करोड़ 63 लाख 52 हजार रुपए के सीसी नाली निर्माण, 1 करोड़ 31 लाख 25 हजार रुपए के सीसी रोड निर्माण कार्य, 4 करोड़ 37 लाख रुपए के उचित मूल्य दुकान सह गोदाम निर्माण, 3 करोड़ 48 लाख 81 हजार रुपए के नलकूप खनन एवं सबमर्सिबल पंप स्थापना, 1 करोड़ 20 लाख रुपए के शहरी क्षेत्रों में गौठान निर्माण, 2 करोड़ 45 लाख 10 हजार रुपए के नवीन आंगनबाड़ी भवन निर्माण तथा 5 करोड़ 90 लाख 31 हजार रुपए के निर्माण कार्यों का शिलान्यास किया।

अंधेरे में रख लोकार्पण कराया: दीपक पटेल

पूर्व विधायक एवं भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष दीपक पटेल ने बताया कि जल आवर्धन योजना चिरमिरी की जनता की पेयजल समस्या को ध्यान में रखते हुए 2012 बनाई गई थी और 2013 में इसका भूमि पूजन किया गया था। इस समय वार्डों में पाइपलाइन बिछाने के लिए डीपीआर ही नहीं बनाया गया है। जानकारी मिली है कि पांच करोड़ का प्रस्ताव बनाया जा रहा है, लेकिन आज किसी ने इसके लिए मांग नही की। जल आवर्धन योजना पूरी तरह पीएचई के हाथ में है, जबकि यह योजना निगम की है। इस योजना के तहत लोगों के घर तक पानी कैसे पहंुचे। इसकी कोई तैयारी नहीं की गई है। जल आवर्धन योजना का लोकार्पण मुख्यमंत्री को अंधेरे में रखकर स्थानीय प्रतिनिधियों ने निगम चुनाव में फायदा लेने के उद्देश्य से करा दिया है। जल अावर्धन योजना से 40 वार्ड के करीब 85 हजार लोगांे को नियमित पेयजल मिलेगा।

ये लोग रहे मौजूद

ज्योत्सना महंत, प्रभारी मंत्री डा.शिव डहरिया, प्रेमसाय, अमरजीत भगत, विधायक गुलाब कमरो, अंबिका सिंहदेव, मेयर के.डोमरू रेड्डी, नपा अध्यक्ष अशोक जायसवाल, एसपी चंद्रमोहन सिंह, तूलिका प्रजापति, पीवी खेस, कलावती मरकाम, प्रभा पटेल, बबीता सिंह, सुभाष कश्यप, अमित अग्रवाल, शिवांश जैन, राकेश श्रीवास्तव, राहुल पटेल, अजीत लकड़ा, राजीव केशरवानी, नजीर अजहर, प्रदीप गुप्ता, वेदांती तिवारी, योगेश शुक्ला मौजूद रहे।

Surajpur News - chhattisgarh news central government needs coal and bauxite in the state but will not take farmers39 paddy baghel
X
Surajpur News - chhattisgarh news central government needs coal and bauxite in the state but will not take farmers39 paddy baghel
Surajpur News - chhattisgarh news central government needs coal and bauxite in the state but will not take farmers39 paddy baghel
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना