सीएसईबी में व्यवस्था बदली, एई को बनाया सर्वेसर्वा, काम नहीं होने से उपभोक्ता परेशान

Ambikapur News - सितम्बर माह से सीएसईबी प्रबंधन द्वारा पुरानी व्यवस्था को एकाएक बदलकर नई व्यवस्था लागू कर देने से ग्रामीण...

Dec 04, 2019, 08:51 AM IST
सितम्बर माह से सीएसईबी प्रबंधन द्वारा पुरानी व्यवस्था को एकाएक बदलकर नई व्यवस्था लागू कर देने से ग्रामीण क्षेत्रों के विद्युत उपभोक्ता खासे परेशान है। सबसे ज्यादा परेशानी दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों के उपभोक्ताओं को हो रही है। सितम्बर माह से सीएसईबी द्वारा राजस्व सम्बन्धित पूरे कार्य सहायक अभियंताओं को सौंप दिया गया है। तीन माह पहले तक जो कार्य कनिष्ठ अभियंताओं के जिम्मे था जो अब सहायक अभियन्ता संभालने लगे हैं।

नए आदेश में जेई अब ऑफिस की जगह विद्युत विभाग के मैदानी अमले के साथ विद्युत व्यवस्था को दुरुस्त करेंगे। जिसमें फ्यूज कॉल, नए लाइन विस्तार का सर्वे आदि कार्य होगा। बताया जाता है कि सूरजपुर जिले में कुल 12 वितरण केंद्र हैं। जिसमें 12 कनिष्ठ अभियंता पदस्थ हैं। जबकि पूरे जिले में मात्र दो सहायक अभियन्ता पदस्थ हैं। जिनमें एक जिला मुख्यालय में जबकि दूसरा बिश्रामपुर में विभाग द्वारा लम्बे समय से चल रही व्यवस्था को एकाएक बदल देने से जहां सहायक अभियंताओं पर कार्य का बोझ काफी बढ़ गया है। पहले उपभोक्ताओं की समस्या का समाधान स्थानीय स्तर पर वितरण केंद्र में पदस्थ जेई कर देते थे, लेकिन अब उन्हें लाइन फाल्ट के अतिरिक्त नया कनेक्शन लेने, बिलिंग सम्बन्धित समस्या, अन्य राजस्व सम्बन्धित किसी भी कार्य के लिए ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ता सहायक अभियन्ता के कार्यालय का चक्कर लगाने विवश हो रहे हैं। फिर भी उपभोक्ताओं के काम समय पर नही हो पा रहे हैं । कनिष्ठ अभियंता फील्ड में दौड़ भाग में जुटे हैं। विभाग की नई व्यवस्था से जेई तो काफी राहत महसूस कर रहे लेकिन उपभोक्ताओं की परेशानी कई गुना बढ़ गई है। प्रदेश की पूर्ववती भाजपा सरकार ने विद्युत सम्बन्धी उपभोक्ताओं की समस्या के निदान के लिए कई नए वितरण केंद्र खोल जेई स्तर के अधिकारियों की पदस्थापना की थी। जिससे काफी हद तक उपभोक्ताओं को राहत मिली थी। सरकार की सौभाग्य योजना को लोगों ने हाथों हाथ लिया था। चोरी से विद्युत का उपयोग करने वालो को आसानी से नए कनेक्शन की सुविधा मिलने से सरकार को राजस्व का भी लाभ हुआ था।

तीन माह पहले तक राजस्व का काम जेई संभाल रहे थे

सितंबर से व्यवस्था में किया गया है बदलाव

सहायक अभियंता उपसंभाग बिश्रामपुर अनुरंजन कुजूर ने बताया कि सितम्बर माह से व्यवस्था में परिवर्तन किया गया है। जेई फील्ड का कार्य देखेंगे जिससे विद्युत व्यवस्था पहले से ओर बेहतर होगी। उपभोक्ताओं की समस्याओं को त्वरित निराकरण का प्रयास किया जाएगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना