छेरछेरा माई कोठी के धान ला... कहते मांगा अन्न

Anchalik News - राजिम| दान का प्रमुख पर्व छेरछेरा नगर सहित अंचल में धूमधाम से मनाया गया। सुबह से ही बच्चे थैला, टुकना, चमड़ी आदि...

Jan 12, 2020, 07:20 AM IST
Nayapara Rajim News - chhattisgarh news chharchera mai kothi ki paddy la called grain
राजिम| दान का प्रमुख पर्व छेरछेरा नगर सहित अंचल में धूमधाम से मनाया गया। सुबह से ही बच्चे थैला, टुकना, चमड़ी आदि लेकर छेरछेरा मांगने के लिए टोली बनाकर निकले। छेरछेरा माई कोठी के धान ला हेर हेरा करते हुए घर-घर जाकर धान मांगा। मंडली, टोली व समिति वालों ने अपने-अपने दल के अनुसार छेरछेरा मांगने के लिए घर घर जा रहे थे। रामायण समिति के लोग वाद्य यंत्रों के साथ राम नाम भजन करते हुए दान मांगे। वहीं दान देने वाले भी दिल खोलकर दान किए। दान पाकर बच्चों के चेहरे खिल उठे। कई ऐसे बच्चे थे, जो दान की सामग्री इतनी ज्यादा हो गई कि उनके उठाने से भी नहीं उठ रही थी। विद्यार्थी खिलेंद्र, नमन, कुलेश्वरी, धनेश्वरी, माऊली, राहुल, आदित्य, जहान्वी, राजा आदि छेरछेरा मांगने में खुश तो नजर आ रहे थे। पर्व पर लगभग प्रत्येक घरों में छत्तीसगढ़ी व्यंजन भी बनाए गए, जिसमें खासतौर से भजिया, बड़ा, सोहारी आदि खाने का बच्चों ने आनंद लिया।

खरोरा में भी निकली टोली: खरोरा| पौष पूर्णिमा के दिन शुक्रवार को छत्तीसगढ़ का लोक पर्व छेरछेरा नगर सहित ग्रामीण अंचलों में धूमधाम से मनाया गया। नगर सहित गांवों में सुबह से ही बच्चे, युवक व युवतियां हाथ में टोकरी, बोरी, थैला लेकर घर-घर जाकर छेरछेरा माई कोठी के धान ल हेरेहेरा कहते हुए धान मांगा। बड़ी संख्या में लोगों ने खुशहाली की कामना की।

ईष्ट देव की पूजा कर छेरछेरा मांगने निकले लोग: तिल्दा-नेवरा| ग्राम पंचायत ताराशिव में सूर्योदय से पहले पुण्य स्नान करने के पश्चात लोगों ने अपने ईष्ट देव की पूजा-अर्चना की। तत्पश्चात दिनभर छोटे-बड़े सभी लोग सुबह से ही टोली बनाकर बाजे के साथ थैला लेकर छेरछेरा माई कोठी के धान ला हेर हेरा कहते हुए छेरछेरा मांगा।

राजिम. छेरछेरा वालो को अन्न दान करते हुए बालिका।

अंचल में बच्चों को अन्नदान किया

डोंगरीडीह| छेरछेरा क्षेत्र के गांव डोंगरा, तिल्दा, लाटा, सिरियाडीह, सुनसुनिया, सेमरिया, चंगोरी, पैसर, कोयदा, मरदा, करदा, बाजारभाटा सहित में मनाया गया। बच्चों की टोलियां सुबह से ही गांव के हर घर में जा जाकर छेर छेरा माई कोठी के धान ल हेर हेरा की पुकार के साथ अन्न के रूप धान का दान प्राप्त कर मंगल कामना का आशीर्वाद दिए। इस दौरान ध्रुव कैवर्त, बबलू कैवर्त्य, अनुराग कैवर्त्य, बादल कैवर्त्य, गंगा कैवर्त्य, अनुज कैवर्त्य, योगेश, राजवीर सहित बच्चों ने बताया कि उन्हें प्रत्येक घर से धान मिला है। इसके अलावा क्षेत्र में पहली बार किसी राष्ट्रीय पार्टी के कार्यकर्ताओं में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर ब्लॉक कांग्रेस ने भी छेरछेरा मांगकर पर्व का निर्वहन किया।

X
Nayapara Rajim News - chhattisgarh news chharchera mai kothi ki paddy la called grain
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना