घर मंदिर तभी बनेगा जब करें एक-दूसरे का सम्मान: पं. उपेंद्र

Anchalik News - समीपस्थ ग्राम झीपन (रावन) में चल रही श्रीमद् भागवत की कथा में पंडित उपेंद्र शर्मा (खुड़मुड़ी तिल्दा ) ने राजा मनु के...

Jan 21, 2020, 07:55 AM IST
Tilda News - chhattisgarh news home temple will be built only when you respect each other pt upendra
समीपस्थ ग्राम झीपन (रावन) में चल रही श्रीमद् भागवत की कथा में पंडित उपेंद्र शर्मा (खुड़मुड़ी तिल्दा ) ने राजा मनु के व्रत की कथा, कपिल अवतार, सांख्य शास्त्र का वर्णन, गर्भ विषयक संवाद, शंकर-सती विवाह, सती का देहोत्सर्ग यज्ञ अवतार, ध्रुव चरित्र आदि प्रसंगों को सुनाया।

राजा मनु के कथा को सुनते हुए महाराज ने कहा कि लोग रात में ठीक से सो नहीं पाते। जैसे बीमार, अति धनवान व्यक्ति, जिसने घर में सर्प को देख लिया, चोर व्यक्ति, जिसके घर के बगल में प्रबल शत्रु रहता हो और जिनकी बेटी विवाह योग्य हो गई हो, उन माता-पिता को इन चिंता की वजह से रात में नींद नहीं आती, क्योंकि हर माता-पिता यही चाहते हैं कि उनकी बेटी के लिए अच्छा घर और अच्छा वर जरूर मिले। पंडित उपेंद्र ने कहा कि एक नारी के लिए उनका पति उनकी सारी खुशियां होती हैं। यह भी कहा कि हर नारी को अपने पति की अच्छी सेवा करनी चाहिए, चाहे उनका पति लूला-लंगड़ा, अंधा, काना, धनहीन या निर्बल क्यों न हो, चाहे रूपवान या कुरूप हो पर नारी का पति उनका देवता है। जिस तरह मंदिर का देवता रूप में भले ही सुंदर ना दिखता हो पर हम उनकी पूजा तो लग्न भाव से ही किया करते हैं। वैसे ही नारी पति सेवा करें और एक पुरुष को भी चाहिए कि नारी का सम्मान करें। जिस घर में नारी का सम्मान होता है उस घर को लक्ष्मी नहीं छोड़ती।देवहूति प्रसंग में कहा कि जब वह कन्या अवस्था में रहती है तो वह पिता की देखरेख में रहती है। विवाह होने पर पति उनका पालन करता है और पति के ना रहने पर पुत्र परिवार में रहती है, समाज में रहती है पर किसी भी परिस्थितियों में नारी को अकेले वीराने जीवन जीने का आदेश शास्त्र नहीं देता, क्योंकि यह इंद्रियां बड़ी चंचल होती हैं।

जिस तरह खेत की सीमा कितना भी मजबूती से बांधी गई हो पर बारिश की अधिकता में ढह जाता है। वैसे ही इंद्रियों के विपरीत होने का भय सदा ही रहता है। इसलिए अकेली ना रहे नारी। कपिल अवतार में कहा कि कोई भी पूजा-पाठ सत्कर्म सही विधि पूर्वक किया जाए तो वह निश्चय ही सही-सही फल देती है। माता देवहूति में नियम पूर्वक कर्म किया तो कपिल जैसा ज्ञानी बेटा पाया, जो स्वयं भगवान ही थे।

सुहेला. झीपन (रावन) में भागवत सुनाते पंडित उपेंद्र शर्मा और कथा सुनती महिलाएं।

Tilda News - chhattisgarh news home temple will be built only when you respect each other pt upendra
X
Tilda News - chhattisgarh news home temple will be built only when you respect each other pt upendra
Tilda News - chhattisgarh news home temple will be built only when you respect each other pt upendra
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना