नया भवन दो साल से तैयार पर झोपड़े में पढ़ रहे आश्रम के बच्चे

Anchalik News - यहां से 9 किलोमीटर दूर ग्राम झरियाबाहरा बेहराडीह में 2008 में आदिवासी कमार बालक आश्रम प्रारंभ किया गया है, तब से यह...

Nov 22, 2019, 07:05 AM IST
Mainpur News - chhattisgarh news the new building has been ready for two years but the children of the ashram are studying in the hut
यहां से 9 किलोमीटर दूर ग्राम झरियाबाहरा बेहराडीह में 2008 में आदिवासी कमार बालक आश्रम प्रारंभ किया गया है, तब से यह आश्रम झोपड़े जैसे टूटे-फूटे भवन में ही संचालित हो रहा है, जहां कमरों की कमी और संसाधान के अभाव में पढ़ाई करने विवश हैं। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा लाखों रुपए की लागत से शानदार आश्रम भवन का निर्माण किया गया है लेकिन उदघाटन के इंतजार में इसका लाभ आदिवासी कमार बच्चों को नहीं मिल पा रहा है। इस कमार आदिवासी आश्रम में 115 छात्र अध्ययनरत हैं और पुराने भवन में कमरों की कमी के चलते एक पलंग पर दो बच्चे सोने को मजबूर हैं। साथ ही भवन की स्थिति बेहद जर्जर हो गई है, बारिश के दिनों में पानी का रिसाव भवन के भीतर झरने की तरह होता है।

ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मांग की है कि नवनिर्मित इस आश्रम भवन का विधिवत लोकार्पण कर इसका शुभारंभ किया जाए, आश्रम भवन के शुभारंभ के लिए पिछले दिनों ग्राम पंचायत की एक प्रतिनिधिमंडल ने संबधित विभाग के आला अधिकारियों से गुहार भी लगाई है। 2007 में तहसील मैनपुर से 9 किलोमीटर दूर हीरा खदान के रूप में देश विदेश में चर्चित ग्राम बेहराडीह में पूर्व मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह अचानक हेलीकाॅप्टर से पहुंचे थे तो ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री से आश्रम खोलने की मांग की थी। तब तत्कालीन मुख्यमंत्री ने आश्रम खोलने की घोषणा की थी।

घोषणा के अनुसार 2008 में ग्राम झरियाबाहरा बेहराडीह में आश्रम प्रारंभ किया गया लेकिन भवन के अभाव में पुराने जर्जर स्कूल में इस आश्रम का संचालन किया जा रहा है। दो वर्ष पहले यहां नया आश्रम भवन लोक निर्माण विभाग ने लगभग 160.22 लाख की लागत से बनाया है। जनपद सदस्य सुकचंद ध्रुव ने कहा कि बेहराडीह में लाखों की लागत से आश्रम भवन का निर्माण किया गया है और यह भवन बनकर तैयार हो चुका है। नए भवन में जल्द ही आश्रम लगाने के लिए वे ग्रामीणों के साथ कलेक्टर से मुलाकात करेंगे।

झरियाबाहरा बेहराडीह आश्रम के बच्चे इस टूटे-फूटे भवन में पढ़ते हैं।

X
Mainpur News - chhattisgarh news the new building has been ready for two years but the children of the ashram are studying in the hut
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना