11 डॉक्टरों को भेजा नोटिस लौटा, कोई पते पर नहीं मिला तो किसी ने लेने से किया इंकार

Balod News - जिले के अस्पतालों में 8 से 10 साल से डॉक्टरों की कमी है। इन्हीं 10 वर्षों से गायब 11 डॉक्टरों ने अब तक इस्तीफा भी नहीं...

Jan 19, 2020, 06:35 AM IST
Balod News - chhattisgarh news notice sent to 11 doctors returned no one refused to take if no address was found
जिले के अस्पतालों में 8 से 10 साल से डॉक्टरों की कमी है। इन्हीं 10 वर्षों से गायब 11 डॉक्टरों ने अब तक इस्तीफा भी नहीं दिया है। विभाग इन्हें हर साल 3 बार नोटिस भेजती है। लेकिन उनका कोई जवाब नहीं आता।

अब हाल ऐसा है कि डॉक्टर अपने पते पर भी नहीं मिल रहे हैं। विभाग द्वारा भेजा गया नोटिस उल्टा उनके पास ही आ रहा है। जिसमें कहीं लिखा है कि संबंधित डॉक्टर पते पर नहीं मिले तो किसी में लिखा है कि उन्होंने नोटिस लेने से इंकार कर दिया। स्पीड पोस्ट के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग गायब डॉक्टरों को नोटिस भेजती है पर न नोटिस का जवाब आ रहा है और ना ही डॉक्टर ड्यूटी पर आ रहे हैं।

नौकरी बचाए रखने का खेल: वर्षों से गायब डॉक्टर ना वापस ड्यूटी ज्वाइन कर रहे हैं ना इस्तीफा दे रहे हैं। एक तरह से वे कहीं दूसरी जगह प्राइवेट में नौकरी तो कर रहे हैं लेकिन सरकारी नौकरी को भी बचाए रखने के लिए यह खेल खेला जा रहा है। जिसका नुकसान शासन को हो रहा है। बिना इस्तीफा के उनका पद रिक्त नहीं हो पाया है। जिससे अन्य डॉक्टरों की भर्ती भी नहीं हो पा रही है। जिले के अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी के कारण बेहतर स्वास्थ्य सुविधा नहीं मिल रही। इसके बाद भी प्रबंधन ध्यान नहीं दे रहा है।

बालोद. इस तरह वापस आया नोटिस।

जिले के कौन डॉक्टर कितने साल से हैं गायब

डॉक्टर अस्पताल अनुपस्थिति

गौरव क्लॉडियस प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सांकरा ज जुलाई 2007

विजेता डोंगरे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डौंडी सितंबर 2010

श्यामली राय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डौंडीलोहारा फरवरी 2012

तृप्ति चंद्राकर जिला अस्पताल बालोद जुलाई 2012

वैभव शर्मा जिला अस्पताल बालोद सितंबर 2013

मधुलिका चंद्राकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कुरदी जून 2014

रोशन कुमार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भंवरमरा जून 2014

विवेक साहू प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बोड़रा जनवरी 2015

विश्वशील कड़कड़े प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बोड़रा फरवरी 2015

जी. गौतम जिला अस्पताल बालोद अक्टूबर 2015

रनिता रानी सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गुरुर सितंबर 2017

एक का ही आया इस्तीफा, 10 में कई के पते बदल चुके हैं

सीएमएचओ डॉ बीएल रात्रे ने बताया कि 11 डॉक्टरों को इस साल नोटिस भेजा गया। जिसमें से सिर्फ एक डॉक्टर रोशन कुमार का इस्तीफा आ गया है। बाकी 10 डॉक्टरों का कोई इस्तीफा नहीं आया, ना ही नोटिस का जवाब आया। कुछ डॉक्टरों का तो पता ही बदल गया है। हमारे पास उनके पुराने पते हैं, उसी आधार पर नोटिस भेजते हैं। लेकिन नोटिस वापस आया तो पता चला कि वे उस पते पर ही रहते नहीं। कुछ लोगों ने तो नोटिस लेने से इंकार कर दिया है। हमने शासन को रिपोर्ट दे दी है। पद रिक्त नहीं होने के कारण नियुक्ति भी नहीं हो पा रही है। डॉक्टरों की बहुत जरूरत है। डाॅक्टरों की कमी के कारण इलाज प्रभावित हो रहा है।

X
Balod News - chhattisgarh news notice sent to 11 doctors returned no one refused to take if no address was found

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना