दुर्ग स्टेशन के प्लेटफार्म 1 में लगेगा एक और एस्केलरेटर

Balod News - दुर्ग रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 1 में एस्केलरेटर लगाने रेलवे ने मंजूरी दे दी है। जिसकी सुविधा हमारे बालोद...

Aug 26, 2019, 06:40 AM IST
दुर्ग रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 1 में एस्केलरेटर लगाने रेलवे ने मंजूरी दे दी है। जिसकी सुविधा हमारे बालोद जिले के यात्रियों को भी मिलेगी। जो ट्रेन में सफर करते हैं। दरअसल केंवटी, दल्लीराजहरा से सुबह से शाम तक चलने वाली ट्रेन दुर्ग में ही रुकती है। साथ ही दुर्ग से यहां पहंुचती है। यह अतिरिक्त एस्केलरेटर प्लेटफार्म नंबर एक जीआरपी के ठीक सामने होगा।

रेलवे के मुताबिक दुर्ग स्टेशन का प्लेटफार्म नंबर एक पर सबसे ज्यादा यात्रियों का दबाव रहता है। वजह यह है कि इस प्लेटफार्म को ही पार कर यात्री दूसरे, तीसरे, चौथे और पांचवे नंबर पर जाते हैं। स्टेशन में प्रवेश करने का मुख्य मार्ग भी प्लेटफार्म क्रमांक एक है। इसके अलावा प्लेटफार्म क्रमांक 6 और 7 जहां रायपुर दुर्ग भानुप्रतापपुर केवटी ट्रेन सहित अन्य लोकल ट्रेनों के यात्री भी इसी प्लेटफार्म से आते और जाते हैं।

जिसमें बालोद जिले के यात्री भी प्रभावित हो रहे हैं। इसके अलावा हावड़ा कुर्ला, हावड़ा मुंबई मेल, गीताजंलि, राजधानी, पुरी एक्सप्रेस सहित सबसे ज्यादा एक्सप्रेस व मेल का ठहराव इसी एक नंबर प्लेटफार्म पर होता है। मौजूदा स्थिति को देखते हुए रेलवे की ओर से यात्रियों के हित में निर्णय लिया गया है।

बालोद जिले के यात्री प्लेटफार्म नं.-1 में करते हंै ट्रेन का इंतजार।

जानिए... यह क्या है

इसे चलती सीढ़ी भी कहा जाता है। ऐसी लगातार चलने वाली सीढ़ी को कहते हैं। जिसके द्वारा लोग खड़े खड़े ही, उसकी चल की दिशा में एक तल से दूसरे तल पर पहुंच सकते हैं।

दुर्ग के अलावा इन स्टेशनों में मार्च 2020 तक लगेगा

रेलवे प्रशासन रायपुर डिवीजन के प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर दस एस्केलरेटर लगाने का प्रस्ताव तैयार किया है। इसमें दुर्ग स्टेशन के अलावा पावर हाउस स्टेशन, भाटापारा स्टेशन, रायपुर स्टेशन में एस्केलरेटर लगाने की मंजूरी दे दी गई है। एस्केलरेटर लगाने के लिए करोड़ों रुपए खर्च होंगे। मार्च 2020 तक लगाने की तैयारी है।

य ात्रियों को होगी सुविधा, दुर्ग में पहले शुरू होगा काम

डीआरएम कौशल किशोर ने बताया कि दुर्ग, पावर हाउस सहित रायपुर डिवीजन में दस एस्केलेटर लगाए जाएंगे। इसकी मंजूरी रेलवे ने दे दी है। इससे यात्रियों को आने-जाने में सुविधा होगी।

आप ऐसे समझें- कैसे मिलेगी लोगों को सुविधा

दुर्ग स्टेशन से 13 प्राइमरी मेल व एक्सप्रेस शुरू होती है। यहां से 71 मेल एक्सप्रेस, पैसेंजर सहित 155 ट्रेनें रोजाना गुजरती हैं। इन ट्रेनों से रोजाना औसतन 35 हजार मुसाफिर सफर करते हैं और 10 हजार से ज्यादा लोग प्रतिदिन स्टेशन में अपने परिजनों को लेने स्टेशन आते हैं। नए एस्केलरेटर लगने से लोगों को सुविधा मिलेगी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना