बच्चों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने बांटे स्वेटर

Balod News - मंगलवार को विवेकानंद सभागार में बच्चों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने बुनियादी मिडिल स्कूल के प्रबंधन समिति...

Dec 04, 2019, 07:40 AM IST
Balod News - chhattisgarh news to encourage children to teach distribute sweaters
मंगलवार को विवेकानंद सभागार में बच्चों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने बुनियादी मिडिल स्कूल के प्रबंधन समिति द्वारा स्वेटर दिया गया। 86 बालक, 28 बालिका, कुल 114 बच्चों को स्वेटर दिया गया। शाला प्रबंधन समिति ने स्कूल के अंतर्गत निर्मित व्यवसायिक कांप्लेक्स से होने वाले आय से इन कपड़ों की खरीदी की थी। जिसे आज जरूरतमंद बच्चों को बांटा गया।

वितरण करने पहुंचे मुख्य अतिथि डीईओ आरआर ठाकुर ने कहा कि शाला प्रबंधन समिति की सक्रियता, प्रधानपाठक व शिक्षकों का सामंजस्य ही है कि आज यहां बच्चों को प्रोत्साहित करने स्वेटर दिया जा रहा है। जिला मुख्यालय बालोद में ये ऐसा स्कूल है, जहां फंड के लिए शासन के सामने हाथ फैलाने की जरूरत नहीं होती। बल्कि समिति अपने आप में विकास कार्यों और बच्चों की शिक्षा की जरूरतों को पूरा करने में सक्षम है। बीआर बेल्सर, एस. काबरा, के एल साहिरो, पीवी साहू, एन यदु, पीडी निषाद, वामंत यादव मौजूद रहे।

बालोद. डीईओ आरआर ठाकुर ने बच्चों को स्वेटर का वितरण किया।

शाला विकास में भागीदारी जरूरी है: अध्यक्ष

प्रबंधन समिति अध्यक्ष परदेशी महानंद ने कहा कि शासन से निर्धारित फंड ही प्राप्त होता है। लेकिन उनसे बच्चों और स्कूल का विकास अगर पूरा नहीं हो पाता है तो प्रबंधन समिति का दायित्व रहता है कि वह उन जरूरतों को पूरा करें। इसलिए हमारा फोकस स्कूल की समस्याओं को दूर करने के अलावा बच्चों को शिक्षा में प्रोत्साहन देना भी रहता है। उन्होंने बच्चों को पढ़ाई पर फोकस करने प्रेरित किया। इस दौरान विशेष अतिथि के रूप में जयकरण परिहार, दीपक यादव, हंसराज साहू, अंबिका यादव, शांति यादव, तारा यादव, संगीता शर्मा, संगीता नेताम, सूर्यकांत साहू, सन्तोष राजपूत, हरिराम, वीरेंद्र साहू, लोमन मंडावी मौजूद रहे।

जूता मोजा व कापियां भी देते हैं: प्रधानपाठक पीसी केसरिया ने कहा कि पहले भी प्रबंधन समिति व सभी शिक्षकों के प्रयास से यहां के बच्चों को जूता मोजा और नए बच्चों को कापियां निशुल्क वितरित की गई है। ताकि वे आसानी से पढ़ाई कर सकें। उन्हें किसी तरह की दिक्कत ना हो। स्कूल में अधिकतर जवाहर पारा गरीब बस्ती से बच्चे पढ़ने आते हैं। कई बच्चे दूसरे जिले से भी हैं, जो हॉस्टल में रहते हैं और यही पढ़ाई करते हैं।

X
Balod News - chhattisgarh news to encourage children to teach distribute sweaters
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना