गंैजी में महिलाओं ने की सड़क नाली, तालाब की साफ-सफाई

Balod News - ग्राम गंैजी में भारतमाता वाहिनी की महिलाओं ने गांव को प्लास्टिकमुक्त बनाने अभियान शुरू किया है। यहां की महिलाएं...

Nov 11, 2019, 06:55 AM IST
ग्राम गंैजी में भारतमाता वाहिनी की महिलाओं ने गांव को प्लास्टिकमुक्त बनाने अभियान शुरू किया है। यहां की महिलाएं अलग-अलग समूह में सरपंच शांति भूआर्य के नेतृत्व में सड़क, तालाब, नाली, हैंडपंप के आसपास, स्कूल भवन, दुकान के आसपास पड़े प्लास्टिक को एकत्रित किया। लोगों को भी प्लास्टिक का उपयोग न करने प्रेरित किया। साथ ही गांव में साफ-सफाई रखने ग्रामीणों से कहा।

अध्यक्ष कुमिंता लाटिया ने कहा कि पर्यावरण को संतुलित बनाए रखने के लिए स्वच्छता जरूरी है। स्वच्छता स्वास्थ्य के लिए भी आवश्यक है। अगर आसपास साफ सुथरा रहेगा तो लोग कम बीमार पड़ेंगे। इसलिए घरों के आसपास सफाई रखें। इस अभियान में गांव के बच्चों व युवाओं को भी जोड़कर सफाई व प्लास्टिक का उपयोग ना करने के लिए प्रेरित किया। सफाई कार्य में रामवती यादव, सतरूपा धनगुण, मंजूलता कोमा, सुल्ताना प्रधान, सुनीता भुआर्य, समित यादव आदि का सहयोग रहा।

डौंडीलोहारा. ग्राम गंैजी में सफाई करती गैंजी की महिलाएं।

कचांदुर के दिव्यांग प्रशिक्षण केंद्र को समाज कल्याण विभाग से जोड़ा जाएगा

भास्कर न्यूज | भाठागांव आर

ग्राम कचांदुर में दिव्यांगों के लिए बना विशेष आवासीय प्रशिक्षण केंद्र का डिप्टी कलेक्टर एवं समाज कल्याण विभाग प्रभारी उप संचालक ऋषि तिवारी ने निरीक्षण किया। स्कूल संचालन व्यवस्था व बच्चों की पढ़ाई के बारे में जानकारी लेकर संचालन के लिए बजट के अनुरूप फंड दिलाने, बिल्डिंग अपडेट कराने तथा जल्द ही प्रशिक्षण केंद्र को समाज कल्याण विभाग से जोड़कर आगे संचालित करने का आश्वासन दिया।

इसके पूर्व भी प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा प्रशिक्षण केंद्र का अवलोकन किया गया था, लेकिन किसी प्रकार की कोई व्यवस्था नहीं की गई। 1 अप्रैल 2016 को प्रशिक्षण केंद्र के लिए अलग से 50 सीटर भवन 50 लाख की लागत से बनना था। किंतु संचालन के लिए फंड नहीं मिलने से 30 अप्रैल 2016 को स्कूल बंद करना पड़ा था। शाला विकास समिति ने मंत्री अमरजीत सिंह भगत को भी स्कूल की समस्याओं के बारे में लिखित आवेदन देकर अवगत कराया गया था। अब समाज कल्याण विभाग प्रभारी उप संचालक तिवारी के निरीक्षण के बाद समाज कल्याण विभाग से जोड़कर चलाने का आश्वासन देकर दिव्यांग बच्चों के भविष्य के लिए नई उम्मीद जगी है। निरीक्षण के दौरान एबीईओ श्रद्धा ठाकुर, सीमा नायक, बीआरसीसी जेएल देवांगन, प्रशिक्षण केंद्र प्रभारी विक्रम साहू, परमेश्वर साहू, दिव्यांग शिक्षक अरविंद शर्मा एवं शाला विकास समिति अध्यक्ष संतोष चंद्राकर उपस्थित थे।

प्रशिक्षण केंद्र कचांदुर में निरीक्षण के लिए पहुंचे डिप्टी कलेक्टर।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना