कोंडागांव बना राजीव गांधी आश्रय योजना लागू करने वाला प्रदेश का पहला जिला, 202 को मिला पट्टा

Bastar Jagdalpur News - जिले में राजीव गांधी आश्रय योजना की शुरूआत हो गई है। इस योजना के शुरू होने के बाद पहली बार में ही शहरी क्षेत्र में...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 07:11 AM IST
Kondagaon News - chhattisgarh news kondagaon became the first district in the state to implement rajiv gandhi asylum scheme 202 received lease
जिले में राजीव गांधी आश्रय योजना की शुरूआत हो गई है। इस योजना के शुरू होने के बाद पहली बार में ही शहरी क्षेत्र में रहने वाले 202 परिवारों को इस योजना के तहत आबादी पट्‌टा दिया गया। लोगों को पट्‌टा देने के लिए रविवार को नगर पालिका परिसर में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

कार्यक्रम में शामिल विधायक मोहन मरकाम ने कहा कि अपनी जमीन और अपने मकान का मालिकाना हक, हर व्यक्ति का सपना होता है इसे देखते हुए राज्य शासन ने अपने वादे को पूरा करते हुए एक और जनहितकारी कार्यक्रम राजीव गांधी आश्रय योजना को प्रारंभ कर दिया है। प्रदेश में सबसे पहले यह योजना कोंडागांव से ही शुरू हो गई है। जल्द ही इस योजना का फायदा अन्य जिले के लोगों को मिलेगा। विधायक ने कहा कि कोंडागांव शहर के 75 प्रतिशत से अधिक लोगों की नजूल भूमि में बसाहट है, वे सालों से स्थायी पट्टे की बाट जोह रहे थे। अब स्थाई पट्टा मिल जाने से उन्हें हटाने के लिए किसी सरकारी तामील या अमले का डर नहीं रहेगा। यह सभी जानते है कि राज्य शासन ने अपने मात्र दस महीने के कार्यकाल में यह सिद्ध कर दिया है कि उसे आम आदमी की कितनी फिक्र है। इस योजना के शीघ्र क्रियान्वयन के लिए नगरवासी, जिला प्रशासन, जनप्रतिनिधि एवं पार्षदगण प्रशंसा के पात्र है। इस दौरान अध्यक्ष जिला पंचायत देवचंद मातलाम, तरसेम सिंह गिल, कैलाश पोयाम, तरुण गोलछा, सुरेश पाटले, उमेश साहू, गीता गुप्ता, वेदवती पोयाम सहित अन्य जनप्रतिनिधि व सरकारी अधिकारी- कर्मचारी मौजूद थे ।

मोर जमीन मोर मकान का उद्देश्य यही है : प्रदेश कांग्रेस सचिव मनीष श्रीवास्तव ने कहा कि रोटी-कपड़ा-मकान हर व्यक्ति के जीवन की अनिवार्य आवश्यकताओं में से एक है। शासन की ‘मोर जमीन-मोर मकान‘ योजना का उद्देश्य भी यही है। इसे ध्यान में रखते हुए शासन के निर्देशानुसार बहुत ही कम समय में शहरी क्षेत्र में सर्वे का कार्य पूर्ण कर लिया गया।

श्रीवास्तव ने कार्यक्रम में मौजूद लोगों से कहा कि लोग अब परिवार के सदस्यों को शिक्षा एवं रोजगार के लिए भी प्रेरित करें। उन्होंने उपस्थित लोगों से आग्रह किया कि वे कोंडागांव शहर को और बेहतर बनाने के लिए पत्र लिखकर सुझाव भेज सकते हैं या जनदर्शन के माध्यम से अवगत कराएं उनकी समस्याओं का तत्काल निराकरण होेगा।

राजीव गांधी आश्रम योजना के तहत आबादी पट्‌टा वितरित करते विधायक।

पेयजल की किल्लत जल्द होगी दूर

विधायक ने कहा कि शहरी क्षेत्र में पेयजल की किल्लत दूर होगी। उन्होंने कहा कि इस समस्या को दूर करने के लिए कोसारटेडा परियोजना को मूर्तरुप दिया जाएगा। इसके अलावा रजबंधा तालाब, राम मंदिर तालाब और कोपाबेड़ा तालाब का भी सौंदर्यीकरण जल्द होगा। ताकि नगरीय क्षेत्र वर्षभर जलावर्धन से परिपूर्ण रहे। नगरीय क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यो का ब्यौरा देते हुए विधायक ने कहा कि डीएनके एवं विकासनगर स्टेडियम मैदान का कायाकल्प करने के साथ-साथ विभिन्न समाजों के लिए मुक्तिधाम निर्माण के लिए 20 लाख, शहरी सड़क सुदृढ़ीकरण कार्य के लिए 4 करोड़ 50 लाख दिए जा रहे हैं। इसी तरह अब किसी भी वार्ड निवासी को अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए नगरपालिका कार्यालय के चक्कर लगाने की आवश्यकता नहीं रहेगी। इसके लिए हर वार्ड में मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय तथा सामान्य बीमारियों के उपचार के लिए मुख्यमंत्री वार्ड क्लीनिक बनाए जाएंगे।

X
Kondagaon News - chhattisgarh news kondagaon became the first district in the state to implement rajiv gandhi asylum scheme 202 received lease
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना