मेला मड़ई : घोटपाल मेले में देवी-देवताओं के विग्रह शामिल हुए, लोगों ने किया नृत्य

Bastar Jagdalpur News - कभी 12 दिनों का भरता था मेला, अब 1 ही दिन भरता है उसेंडी देव के प्रतीक चंदन की लकड़ी करीब 500 साल पुरानी है घोटपाल...

Feb 12, 2020, 06:30 AM IST
Bastar News - chhattisgarh news mela madai deities of gods and goddesses participated in the ghotpal fair people danced
कभी 12 दिनों का भरता था मेला, अब 1 ही दिन भरता है

उसेंडी देव के प्रतीक चंदन की लकड़ी करीब 500 साल पुरानी है


घोटपाल के वरिष्ठ नागरिक लक्ष्मण व बिंजाम के केशव नेताम बताते हैं कि उसेंडी देव के प्रतीक को जिस लकड़ी से बनाया गया है, वह चंदन की लकड़ी है। जोकि करीब 500 साल पुरानी है। जो आज भी सुरक्षित है। इनकी सेवा देव पुजारी कारोटी ही करते हैं। मेला के दिन इनके अलावा अलग- अलग गांवों से पहुंचे देव पुजारी के परिक्रमा कराने की परंपरा है। 12 साल में वस्त्र बदलने की परंपरा है। जितने भी देव शामिल हुए हैं, सभी उसेंडी देव की संतानें हैं। घोटपाल मेला से ही दक्षिण बस्तर के मेला की शुरुआत होती है।

दंतेवाड़ा| घोटपाल में मंगलवार को क्षेत्र का सबसे बड़ा व पहला मेला भरा। इस मेला से दक्षिण बस्तर की मेला मंडई का आगाज हो गया। घोटपाल मेला में शामिल होने कटुलनार,बिंजाम, मसेनार, कोरलापाल, तारलापाल, बासनपुर, कारली, मुचनार, बारसूर सहित अन्य कई गांवों के देवी-देवता पहुंचे। यहां कई सारी रस्में अदा की गईं। पारंपरिक नृत्य हुआ। मेला स्थल में परिक्रमा लगाई गई। ढोल- नगाड़े, पारंपरिक वाद्य यंत्रों की गूंज दिनभर मेला स्थल में गूंजती रही।

स्थानीय लोगों ने बताया कि पहले यह मेला 12 दिनों का होता था। 12 दिनों तक देवी- देवता यहां होते थे, हर दिन एक परिक्रमा लगती थी। लेकिन यह अचानक सिमटकर सिर्फ 1 दिनों का रह गया। चूंकि परंपरा 12 दिनों की 12 परिक्रमा की है, ऐसे में 1 ही दिन में 12 परिक्रमा कर
विधि को पूरा किया जाता है। मंगलवार को भरे इस मेला में सेवादार, ग्रामीण बड़ी संख्या में यहां पहुंचे थे। क्षेत्र की इस पहली मड़ई को देखने दूर- दूर से लोग पहुंचे थे। अब बुधवार को देवी- देवताओं की विदाई की रस्म होगी।

Bastar News - chhattisgarh news mela madai deities of gods and goddesses participated in the ghotpal fair people danced
X
Bastar News - chhattisgarh news mela madai deities of gods and goddesses participated in the ghotpal fair people danced
Bastar News - chhattisgarh news mela madai deities of gods and goddesses participated in the ghotpal fair people danced

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना