मुफ्ती बोले- पैगंबर बेटियों से प्यार करते थे, कोख में मारने वालों पर हो कार्रवाई

Bastar Jagdalpur News - जश्ने ईद मिलादुन्नबी के मौके पर मुस्लिम समाज के लोगों के बीच धर्मगुरूआंे ने धार्मिक मैसेज के साथ-साथ सामजिक मैसेज...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 07:01 AM IST
Jagdalpur News - chhattisgarh news mufti said prophet loved daughters action should be taken against those who kill in the womb
जश्ने ईद मिलादुन्नबी के मौके पर मुस्लिम समाज के लोगों के बीच धर्मगुरूआंे ने धार्मिक मैसेज के साथ-साथ सामजिक मैसेज देने की भी कोशिश की है। रविवार को मोहम्मद साहब के जन्मदिवस के अवसर पर समाज के लोगों ने मोहम्मदी जुलूस निकाला। जुलूस के बाद यूपी से आये मुफ्ती इंतेखाब मिस्बाही ने समाज के लोगों को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ और इंसानियत को बचाने का मैसेज दिया।

परचम कुशाई से पहले उन्होंने अपनी तकरीर में लोगों को बताया कि मोहम्मद साहब से पहले अरब में बेटियों के पैदा होने पर लोग दुखी होते थे। बेटियों को जिंदा ही दफन कर दिया जाता था। उन्होंने बताया कि मोहम्मद साहब को बेटियों से बहुत प्यार था और यही कारण है कि उन्होंने लोगों से कहा कि बेटियों को तालीम देकर अच्छे मुकाम में पहुंचाये और इसके बाद बेटियों को समाज में बेहतर मुकाम मिला। उन्होंने बताया कि पहले बेटियों के पैदा होने के बाद मारा जाता था लेकिन आज उन्हें कोख में ही मार दिया जा रहा है। ऐसे में सरकार को चाहिये कोख में ही बेटा या बेटी की जानकारी देने और इन्हें मारने वाले लोगों पर कार्रवाई की जाये।

संबंधित खबर पेज 14 पर

जगदलपुर। जुलूस के दौरान नारेबाजी करते हुए समाज के युवा।

नकली तोप में कागज के टुकड़ों को भरकर इसे हवा में उड़ाते युवक।

फज्र की नमाज के पहले विशेष दुआ हुई इसके बाद निकाला जुलूस

इधर रविवार सुबह फज्र की नमाज से पहले जामा मस्जिद में विशेष दुआ का आयोजन किया गया था। इस दौरान लोगों ने मुअे मुबारक की जियारत भी की फज्र की नमाज के बाद सुबह जामा मस्जिद से मोहम्मदी जुलूस निकाला गया। यह जुलूस जामा मस्जिद से होते हुए संजय मार्केट चौक, चांदनी चौक, शहीद पार्क चौक होते हुए बस स्टैड वाले रास्ते से मेन रोड होते हुए वापस जामा मस्जिद पहुंचा। जुलूस के बाद मस्जिद में ही लंगर का आयोजन किया गया था। जुलूस का रास्ते भर में जगह-जगह स्वागत किया गया। जुलूस के स्वागत के लिए बस्तर परिवहन संघ, विधायक रेखचंद जैन, भाजयुमों नेता मनीष पारख, आप पार्टी के रोहित सिंह आर्य भी डटे रहे। इसके अलावा जुलूस के स्वागत के लिए समाज के युवाओं ने जो गेट बनाये थे उन्हें सांत्वना पुरस्कार भी दिया गया।

जुलूस में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रही, आगे पीछे चलते रहे अफसर और जवान

इधर जुलूस के दौरान पूरे शहर में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी जुलूस के साथ टीआई रेंक के तीन अफसर चल रहे थे। इसके अलावा बड़ी संख्या में जवान भी जुलूस के आगे पीछे तैनात रहे। इसके अलावा शहर के अलग-अलग स्थानाें पर भी जवानों को तैनात किया गया था। हर बार की तरह इस बार भी यह त्यौहार शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया।

इंडिया गेट लाइट शो और शहीद पार्क का फव्वारा रहा चर्चा में

जुलूस के स्वागत के लिए माहवीर चौक में इंडिया गेट की प्रतिकृति बनाई गई थी इसके अलावा गोलबाजार चौक में लाईट शो की व्यवस्था की गई थी वही शहीद पार्क चौक पर चार फव्वारे एक साथ लगाये गये थे। लोग यहां की सजावट को देखने पहुंचे और यहां सेल्फी भी खिंचवाई। मिताली चौक, संजय बाजार चौक और बैलाकोठा के पास भी आकर्षक साज-सज्जा की थी।

Jagdalpur News - chhattisgarh news mufti said prophet loved daughters action should be taken against those who kill in the womb
X
Jagdalpur News - chhattisgarh news mufti said prophet loved daughters action should be taken against those who kill in the womb
Jagdalpur News - chhattisgarh news mufti said prophet loved daughters action should be taken against those who kill in the womb
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना