नाटकों में बता रहे नक्सलियों की करतूत

Bastar Jagdalpur News - नक्‍सलियों की चेतना नाट्य मंडली (सीएनएम) का डिवीजन इंचार्ज रहा अर्जुन आत्मसमर्पण करने के बाद अब अपनी नाट्य मंडली...

Nov 10, 2019, 08:00 AM IST
नक्‍सलियों की चेतना नाट्य मंडली (सीएनएम) का डिवीजन इंचार्ज रहा अर्जुन आत्मसमर्पण करने के बाद अब अपनी नाट्य मंडली के साथ गांव-गांव पहुंचकर गोंडी बोली में नाच-गाकर व नाट्य मंचन के माध्‍यम से लोगों को नक्‍सलियों की करतूत बता रहा है।

इसके साथ- साथ वह नक्‍सलवाद के नुकसान व उससे दूर रहने के लिए लोगों को जागरुक भी कर रहा है। अर्जुन व भीमा की मंडली में दो दर्जन से ज्‍यादा आदिवासी युवक व युवतियां हैं। स्‍थानीय बोली में कार्यक्रम के होने के कारण ग्रामीण बड़ी संख्‍या में जुट रहे हैं। नक्‍सलियों को उनके ही तरीके से जवाब देने का काम अर्जुन की मंडली कर रही है।

सुकमा. धुर नक्सल प्रभावित गांव कुन्ना में प्रस्तुति देती अर्जुन की नाट्य मंडली की टीम।

कुन्ना में कार्यक्रम देखने जुटे ग्रामीण और स्कूली बच्चे

सरेंडर नक्‍सली अर्जुन की नाट्य मंडली टीम शुक्रवार को कुन्‍ना पहुंची थी । दोपहर एक बजे से साढ़े तीन बजे तक मंडली ने कई तरह की प्रस्‍तुतियां दी। स्‍कूली बच्‍चों के अलावा बड़ी संख्‍या में ग्रामीण महिलाओं व पुरुषों ने पूरे समय इसका आनंद लिया। सीआरपीएफ की 226 बटालियन के टूआईसी आदित्‍य मिश्रा व कुकानार थाना प्रभारी ने बताया कि कुन्‍ना में कैंप खुलने के बाद आसपास इलाकों से नक्‍सली मूवमेंट कम हुआ है। सड़कें व अन्‍य विकास कार्यों में तेजी आने से ग्रामीणों के मन से नक्‍सली डर भी धीरे-धीरे खत्‍म होने के साथ शासन-प्रशासन के प्रति उनका विश्‍वास बढ़ा है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना