प्रदेश के किसानों को Rs.25 सौ धान का मूल्य मिल रहा तो केंद्र के पेट में दर्द हो रहा: कांग्रेस

Bastar Jagdalpur News - पुराने समर्थन मूल्‍य पर धान खरीदी करने पर प्रदेश के किसानों की आर्थिक स्थिति दोबारा खराब हो जाएगी। प्रदेश के सीएम...

Bhaskar News Network

Nov 10, 2019, 08:00 AM IST
Sukma News - chhattisgarh news the farmers of the state are getting rs25 hundred worth of paddy then the center is in pain in the stomach congress
पुराने समर्थन मूल्‍य पर धान खरीदी करने पर प्रदेश के किसानों की आर्थिक स्थिति दोबारा खराब हो जाएगी। प्रदेश के सीएम भूपेश बघेल की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार ने अपने चुनावी घोषणा पत्रानुसार पिछले साल छग के किसानों से 25 सौ रुपए प्रति क्विंटल की दर से धान की खरीदी की। कर्ज माफी और उचित स‍मर्थन मूल्य मिलने से किसानों को बड़ी राहत मिली।

उनके जीवन स्तर में सुधार हुआ है कर्ज के जानलेवा बोझ से उन्‍हें छुटकारा मिला। केंद्र सरकार ने इस वर्ष छग का चावल नहीं लेने का किसान विरोधी फैसला लिया है। अगर छग में किसानों को धान का प्रति क्विंटल 25 सौ रुपए मिल रहा है तो केंद्र सरकार के पेट में दर्द क्यों हो रहा है। केंद्र ने किसान विरोधी निर्णय लेकर धान पर बोनस बंद कर दिया है अगर कोई राज्‍य अपने किसानों को आर्थिक रुप से मजबूत करना चाह रही है तो इससे केंद्र को कोई तकलीफ नहीं होनी चाहिए। केंद्र सरकार को किसी भी हालत में छग का चावल खरीदना ही होगा। उक्त बातें कांग्रेस कमेटी के जिलाध्‍यक्ष करणसिंह देव ने शनिवार को बस स्टैंड में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन के दौरान कही।

बस स्टैंड परिसर में धरना स्थल पर बोलते हुए जिपं अध्यक्ष हरीश कवासी।

10 महीनों के काम गिनाए

जिपं अध्यक्ष हरीश कवासी ने दस महीने की प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के हित में लिए गए निर्णयों के बारे में बोलते हुए कहा कि केंद्र की सरकार छग के साथ भेदभाव की नीति अपना रही है। छग की तत्कालीन भाजपा सरकार भी किसानों को बोनस देती थी। तब केंद्र को चावल लेने में कोई तकलीफ नहीं हुई।

X
Sukma News - chhattisgarh news the farmers of the state are getting rs25 hundred worth of paddy then the center is in pain in the stomach congress
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना