जंगली नाले होंगे साफ, जानवरों को सालभर पानी, मिट्‌टी का कटाव रुकेगा, भूजल भी बढ़ेगा

Bastar Jagdalpur News - पानी को साफ करने के लिए कई प्यूरीफायर मशीनों के नाम आपने सुने होंगे यह भी सुना होगा कि नदी नाले के पानी को एक जगह जमा...

Jan 24, 2020, 07:01 AM IST
Jagdalpur News - chhattisgarh news wild drains will be clean animals will have water throughout the year soil erosion will stop ground water will also increase
पानी को साफ करने के लिए कई प्यूरीफायर मशीनों के नाम आपने सुने होंगे यह भी सुना होगा कि नदी नाले के पानी को एक जगह जमा कर इसे साफ कर लोगों तक पहुंचाया जाता है लेकिन बहते नाले के पानी की सफाई का किस्सा आपने कभी नहीं सुना होगा। लेकिन बस्तर में अब बहते नाले के पानी को साफ करने की योजना पर काम शुरू हो गया है और आने वाले एक महीने के अंदर ही पूरे के पूरे नाले का पानी प्राकृतिक रूप से फिल्टर हो जायेगा।

प्रदेश में नरवा, गरूवा, घुरवा बाड़ी योजना पर काम चल रहा है। प्रदेश की इस महति योजना में से एक नरवा योजना के तहत पूरे के पूरे नाले के बहते पानी को फिल्टर करने के प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो गया है। यह काम कैंपा मद से कांगेर घाटी नेशनल पार्क के अफसर करवा रहे हैं।

इस काम में वन विभाग के अफसर भी सहयोग कर रहे हैं। जिले के धुर नक्सल प्रभावित कोलेंग के जंगलों में बहने वाले गुफा नाला और कोटमसर इलाके के आमा डोंगर नाले के पानी को फिल्टर करने के लिए चुना गया है।

पत्थर की दीवार वाला चेकडैम बनेगा जो पानी से मिट्‌टी को अलग करेगा।

स्टाॅपडैम व पत्थरों की दीवार भी बनेगी

नालों में बहने वाले पानी को साफ करने और वर्ष भर पानी को जमा करने के लिए पूरी प्लानिंग से काम किया जा रहा है। कांगेर घाटी नेशनल पार्क के डीएफओ अशाेक पटेल ने बताया कि जंगलों में बहने वाले नाले कुछ समय के बाद सूख जाते हैं और जब इनमें पानी रहता भी है तो काफी गंदा रहता है। ऐसे में इन नालों में बहने वाली पानी का उपयोग जंगली जानवर नहीं कर पाते हैं।

कचरा रोकने नाले में जगह-जगह ऐसे लोहे की जालियां लगाई जाएंगी।

नाले के उद् गम स्थल से काम होगा शुरू

सबसे पहले नाले के उद्गम स्थल के पास गली प्लगिंग करवाई जा रही है। इसके बाद नाले में कई स्थान पर लूज बोल्डर (पत्थर) रखवाये जा रहे हैं। पत्थरों की खासियत यह होती है कि ये पानी के साथ बहने वाली मिट्‌टी को रोक लेते हैं। नालों में कुछ स्थानों पर बोल्डर चेक डैम यानी पत्थरों का चेक डैम बनाया जा रहा है। इसमें लोहे की जालियां फिट की जा रही है जो कचरे को रोकेंगी। वहीं नाले में गेट वाले चेक डैम बनाये जा रहे हैं ताकि बरसात का पानी चेक डैम में रुके।

पत्थरों का चेकडेम ऐसा रहेगा।

Jagdalpur News - chhattisgarh news wild drains will be clean animals will have water throughout the year soil erosion will stop ground water will also increase
Jagdalpur News - chhattisgarh news wild drains will be clean animals will have water throughout the year soil erosion will stop ground water will also increase
X
Jagdalpur News - chhattisgarh news wild drains will be clean animals will have water throughout the year soil erosion will stop ground water will also increase
Jagdalpur News - chhattisgarh news wild drains will be clean animals will have water throughout the year soil erosion will stop ground water will also increase
Jagdalpur News - chhattisgarh news wild drains will be clean animals will have water throughout the year soil erosion will stop ground water will also increase
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना