हत्यारे को बालिग की तरह सजा दिलाने के लिए शहर एकजुट, फांसी देने की मांग उठी

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रविवार को दोपहर तीन बजे श्रृंखला की अंतिम यात्रा मैत्रीकुंज रिसाली से निकली। इस दौरान हजारों लोग इसमें शामिल हुए। - Dainik Bhaskar
रविवार को दोपहर तीन बजे श्रृंखला की अंतिम यात्रा मैत्रीकुंज रिसाली से निकली। इस दौरान हजारों लोग इसमें शामिल हुए।
  • अपचारी बालक की उम्र 17 साल 11 महीने, 19 को होने वाला है बालिग, सजा दिलाने आज कई प्रदर्शन 
  • खुलासे के बाद लोगों में आक्रोश : अंतिम यात्रा में पहुंचे लोगों में भी दिखा हत्यारे के प्रति गुस्सा 

भिलाई. होनहार छात्रा श्रृंखला यादव के हत्याकांड के खुलासे के बाद लोगों में अपचारी के खिलाफ आक्रोश है। आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए यादव समाज समेत भिलाईवासी एकजुट हो गए हैं। उनका कहना है कि जिस तरह एक बालिग अपराधी को ऐसे घिनौने काम के लिए फांसी से लेकर उम्रकैद तक की सजा मिलती है। उसी तरह पुलिस और प्रशासन मिलकर इस अपचारी को भी सजा दिलाए। हालांकि कानून के जानकारों का कहना है कि डेट ऑफ इंसिडेंट के हिसाब से आरोपी की उम्र तय करके उस पर मुकदमा चलाया जाता है। ऐसे में उस पर नाबालिग की तरह ही सुनवाई होगी। 

1) अपचारी के घर व थाने को घेरने भी पहुंच गए लोग 

रविवार दोपहर करीब तीन बजे 17 वर्षीय छात्रा के मैत्री कुंज स्थित घर पर शव पहुंचते ही अंतिम दर्शन के लिए लोगों का तांता लगा गया। परिजनों का बेटी के जाने के दुख में आंसू बंद होने का नाम ही नहीं ले रहा था। उस दौरान जैसे-जैसे लोगों को छात्रा के घर पहुंचने की जानकारी हुई। इस दौरान हजारों लोग उसके घर पहुंच गए। कई लोग अपचारी के घर का घेराव करने का आह्वान करने में लग गए। वहीं सुबह मैत्री कुंज के रहवासी समेत आसपास के लोगों को सूचना मिली कि पुलिस ने अपचारी बालक को छोड़ दिया है। इस पर लोगों ने नेवई थाने का घेराव किया। टीआई गौरव ने अपचारी के चाइल्ड लाइन में रखे जाने की जानकारी देने के बाद लोगों को गुस्सा शांत हुआ। 

लोक अभियोजक सुदर्शन महलवार ने बताया, लोगों में भ्रांति है कि निर्भया कांड के बाद गंभीर अपराध करने वाले अपचारियों को सामान्य अपराधियों की तरह जेल में रखा जाएगा। उसी तरह उन्हें सजा मिले। हालांकि विगत साल पहले कुछ संशोधन हुए थे। यदि 16 वर्ष की उम्र से ज्यादा वाले बालक गंभीर अपराधों में संलिप्त होते हैं तो उनका ट्रायल जुबिनाइल की जगह न्यायालय में होगा। साथ ही उन्हें अपराध के किस्म के हिसाब से पहले ज्यादा सजा भी मिल सकेगी। लेकिन ट्रायल पूरी होने तक संप्रेक्षण में ही रहेगा।सजा होने के जेल भेजा जाएगा। 

नाबालिग छात्रा श्रृंखला यादव की हत्या के आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने से यादव समाज मुखर हो गया है। हत्याकांड को अंजाम देने वाले अपचारी बालक पर कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, विधायक, गृहमंत्री एवं मुख्यमंत्री से किया जाएगा। छत्तीसगढ़ यादव समाज के प्रदेशाध्यक्ष जगनिक यादव ने कहा, सोमवार को 11 बजे प्रतिनिधिमंडल कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक से मुलाकात करेगा। 

कैंडल मार्च : श्रृंखला यादव को आज सिविक सेंटर में देंगे श्रद्धांजलि 
भिलाई की बेटी श्रृंखला यादव को श्रद्धांजलि देने सिविक सेंटर में एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया है। श्रृंखला की पांच दिनों पहले बर्बरता पूर्ण हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड से पूरे भिलाई में भय और गुस्से का माहौल पैदा कर दिया हैl भिलाईवासियों ने घटना की निंदा करते हुए। श्रृंखला को श्रद्धांजलि देने बेरोजगार चौक में सोमवार को कैंडल मार्च रखा है। स्टूडेंट्स और महिलाएं समेत सभी समाज के लोग उपस्थित रहेंगे।