विज्ञापन

शिक्षा / अब सीए के स्टूडेंट्स को मिलेगी री-चेकिंग और बुक ले जाने की फैसिलिटी

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2019, 02:14 PM IST


chartered accountant students to get re checking and carry book with themselves, CBSE change exam pattern
X
chartered accountant students to get re checking and carry book with themselves, CBSE change exam pattern
  • comment

  • आईसीएआई ने पहली बार किया बदलाव, सीबीएसई ने 12वीं का परीक्षा का पैटर्न बदला
  • 10वीं-12वीं की परीक्षा देने जा रहे और सीए की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए दो महत्वपूर्ण खबर

भिलाई. 10वीं-12वीं  की परीक्षा देने जा रहे और सीए की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए दो महत्वपूर्ण खबर है। सीबीएसई ने जहां 10वीं व 12वीं की परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया है, वहीं आईसीएआई ने भी परीक्षा पैटर्न को लेकर छात्रों को नई सुविधा दी है। जिसके तहत छात्र अब एग्जाम कॉपी को री-चेक करवा सकेंगे। संस्थान ने पहली बार एग्जाम पैटर्न में री-चेकिंग के ऑप्शन को भी शामिल किया है। यही वजह है कि अब छात्र किसी तरह की शंका होने पर अपनी कॉपी को री-चेक करवा सकेंगे। यह सुविधा आईसीएआई इसी सेशन से लागू करने जा रहा है। 

प्रैक्टिकल ट्रेनिंग असेसमेंट टेस्ट 21 को 

  1. सीए कोर्स के तहत प्रैक्टिकल ट्रेनिंग असेसमेंट टेस्ट 21 अप्रैल को होगा। जो छात्र इस टेस्ट में पहले भी एक या दो बार बैठ चुके हैं और अपने नंबर सुधारना चाहते हैं, वे भी इस बार यह पेपर दे सकेंगे। इनमें से बेस्ट स्कोर को मार्कशीट में लिखा जाएगा। साथ ही वे छात्र जो किसी कारण टेस्ट नहीं दे पाए थे, वे 200 रुपए लेट फीस के साथ इसके लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। अप्रैल-2018 से जून-2018 के बीच प्रैक्टिकल ट्रेनिंग का पहला और दूसरा साल पूरा करने वाले स्टूडेंट्स के लिए ये आखिरी मौका होगा, उसके बाद वे परीक्षा नहीं दे सकेंगे। वेबसाइट पर ऑनलाइन पेपर पैटर्न की जानकारी भी दी गई है। प्रतिभागियों की सुविधा के लिए फेसिलिटेशन काउंटर भी बनाए गए हैं। इन पर कार्यालयीन समय में सुबह 10 से शाम 5 बजे तक संपर्क किया जा सकता है। 

  2. 27 की जगह आएंगे 37 प्रश्न, नए सत्र से लागू 

    केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा मंडल (सीबीएसई) एक बार फिर प्रश्नपत्रों का पैटर्न बदलने की तैयारी में है। शैक्षणिक सत्र 2019-20 की कक्षा 12वीं की परीक्षा में प्रश्नों की संख्या बढ़ेगी। 2018-19 में हुर्इ बोर्ड परीक्षा में कुल एक या दो प्रश्न ही अधिकतर विषयों में बढ़े थे और कुल 27 प्रश्न ही पूछे गए थे, लेकिन 2019-20 में प्रश्नों की संख्या लगभग 10 तक बढ़ाई जाएगी। इस हिसाब से 2019-20 की 12वीं की परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को कुल 37 प्रश्नों के उत्तर देने होंगे। 

  3. अब सॉलिड स्टेट भी हटाए जाएंगे 

    बोर्ड ने कक्षा 12वीं में रसायन के सिलेबस से सॉलिड स्टेट की यूनिट हटा दी है। साथ ही पी-ब्लॉक में से ग्रुप 15 को भी हटा दिया है। दूसरे विषयों में भी उन टॉपिक्स को हटाया जाएगा, जिसकी आवश्यकता प्रतियोगी परीक्षा में नहीं होती है। सीबीएसई ने प्रश्नपत्रों की ऐसी डिजाइन बनाई है कि उत्तर लिखने के लिए छात्रों को विषय की गहराई तक समझ होना जरूरी होगा। इस सत्र से 12वीं की परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न नहीं पूछे जाएंगे। 

  4. 10-12 प्रश्न गणितीय सवाल के होंगे 

    वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के साथ दो अंक, तीन अंक और पांच अंकों के भी सवाल होंगे। भौतिकी और रसायन में 10 से 12 प्रश्न अब अनिवार्य रूप से गणितीय सवाल होंगे। 

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन