--Advertisement--

10 फीट चौड़े पुल से 30 फीट नीचे गिरी कार, 36 फीट की सड़क पर ऐसे 8 पुल

Durg Bhilai News - भास्कर न्यूज|पखांजूर/कांकेर एक अरब की लागत से दुर्गूकोंदल-ईरपानार तक 91 किमी सड़क निर्माण में ठेकेदार ने फायदे...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 02:26 AM IST
Durg News - cars falling below 30 feet by 10 feet wide bridge 8 such bridges on the road of 36 feet
भास्कर न्यूज|पखांजूर/कांकेर

एक अरब की लागत से दुर्गूकोंदल-ईरपानार तक 91 किमी सड़क निर्माण में ठेकेदार ने फायदे वाला सड़क निर्माण का काम तो करा दिया लेकिन मार्ग पर 50 साल पुराने 8 संकरे पुलों का निर्माण कराए बिना काम छोड़ दिया। सड़क तो 36 फीट चौड़ी हो गई लेकिन बीच-बीच में 8 पुल मात्र 10 फीट चौड़े हैं। चौड़ी सड़कों पर तेज गति से वाहन दौड़ते हैं जो अचानक आने वाले संकरे पुलों पर हादसे का शिकार हो जाते हैं।

शुक्रवार रात बांदे की ओर जा रही जायलो गाड़ी संकरे पुल पर अनियंत्रित होकर 30 फीट नीचे जा गिरी। हादसे में किसी की जान तो नहीं गई लेकिन संकरे पुलों पर आए दिन हो रहे हादसे चिंताजनक हैं। अंजली नाला की संकरी पुलिया के अलावा बड़गांव से इरपानार तक इसी तरह 8 संकरे पुल हैं जो आए दिन हादसे का कारण बन रहे हैं। एक साल पहले इसी मार्ग पर पीवी 39 स्थित संकरे पुल पर नगर पंचायत लेखापाल दीपक बागची की मौत दोपहिया वाहन के साथ पुल से नीचे गिरने से हो गई थी। सड़क बनने के बाद 4 सालों में 20 से अधिक हादसे संकरे पुलों की वजह से हो चुके हैं। पखांजूर अंजली नाला पुल में वाहनों का दबाव अधिक होता है तथा सर्वाधिक हादसे यहीं होते हैं। यह पुल अन्य पुलों की अपेक्षा अधिक संकरा और जर्जर भी है। पुल के पास हर साल मेला लगता है, इस दौरान दो-तीन वाहन पुल से नीचे गिर जाते हैं।



पुल के पास रहने वाले जयदेव मंडल, विधान राय, देवाशीष राय ने बताया पुल संकरा है और इसके ठीक पहले मोड़ है, पुल में रेलिंग भी नहीं है, चालक ने थोड़ी लापरवाही की तो हादसा तय है। पुल इतना संकरा है कि एक बार में दो दोपहिया वाहन या एक चार पहिया वाहन ही गुजर सकते हैं। बड़े वाहनों के गुजरने के दौरान पुल के दोनों ओर एक फीट भी जगह नहीं बचती।

एक अरब की सड़क बनाई पर ठेकेदार ने पुल बनाए बिना छोड़ा काम

पखांजूर। कंडम बिना रेलिंग वाली पुलिया जहां से नीचे गिरा जायलो वाहन।

क्रेन की मदद से निकाली गई गाड़ी

अंजली नाला पर शुक्रवार रात 9 बजे बांदे की ओर जा रहा जायलो वाहन गिर गया। बिना रेलिंग वाली संकरी पुलिया पर चालक के नशे में होने के कारण गाड़ी का 1 चक्का पुलिया से नीचे उतर गया। गाड़ी 30 फिट नीचे गिर गई। सवार तीन लोगों को मामूली चोटें आईं जबकि वाहन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। अगले दिन वाहन को क्रेन की मदद से निकाला गया।

सभी संकरे पुल करीब 50 साल पुराने बने थे

इस मार्ग में जितने भी पुल हैं सभी 50 साल पहले डीएनके प्रोजेक्ट के दौरान बंग बंधुओं को बसाने के दौरान बने थे। इनमें से अधिकांश जर्जर हो चुके हैं। वर्ष 2011 में जब इस सड़क का नए सिरे से निर्माण शुरू हुआ तो लोगों को आस बनी थी कि जर्जर पुल-पुलियों से मुक्ती मिल जाएगी, लेकिन सड़क तो बन गई पुल नहीं बन पाए।

दुर्गूकोंदल-इरपानार के बीच हैं 8 संकरे पुल

एक अरब के इस प्रोजेक्ट में सड़क के साथ पुलों का निर्माण भी होना था। ठेकेदार ने पखांजूर डिवीजन के 8 मध्यम पुलों का निर्माण नहीं कराया। ये 8 पुल हैं पीवी 130, पीवी 56 अंजली नाला, ग्राम पीवी 39, पीवी 79, साबेर और कुरेनार से इरपानार मार्ग में दो पुल।

संकरे पुलों को लेकर गरमाई राजनीति

नगर पंचायत अध्यक्ष असीम राय ने कहा पखांजूर स्थित अंजली नाला पुल को चौड़ा करने की आवश्यकता है। साथ ही अन्य पुलों को भी चौड़ा करना जरूरी है। विभाग इस कार्य को जल्द से जल्द पूरा कराने ध्यान दे। कांग्रेस के राजदीप हालदार ने कहा शासन प्रशासन की लापरवाही के कारण ही संकरे पुलों का निर्माण अब तक नहीं हो पाया। हर हादसे के लिए चालक ही नहीं प्रदेश की भाजपा सरकार और स्थानीय अधिकारी भी जिम्मेदार हैं।

अफसर बोले- नए पुल बनने में लगेंगे दो साल

पखांजूर पीडब्ल्यूडी के उपयंत्री एके मिलिंद ने कहा कि वर्तमान में ठेकेदार ने काम छोड़ दिया है। अधूरे काम को निरस्त करने प्रक्रिया चल रही है। इसके बाद बाकी काम के लिए टेंडर जारी किया जाएगा जिसके बाद इन पुलों का निर्माण शुरू हो सकेगा। जिसमें दो वर्ष लगेंगे।

X
Durg News - cars falling below 30 feet by 10 feet wide bridge 8 such bridges on the road of 36 feet
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..