बीएसपी को 712.99 करोड़ का प्राफिट, बाकी प्लांट को घाटा

Bhilaidurg News - सेल ने तीसरी तिमाही (अक्टूबर से नवंबर) के नतीजे 14 फरवरी को घोषित कर दिए। इसमें केवल बीएसपी ही 712.99 करोड़ का नुकसान...

Feb 15, 2020, 06:46 AM IST

सेल ने तीसरी तिमाही (अक्टूबर से नवंबर) के नतीजे 14 फरवरी को घोषित कर दिए। इसमें केवल बीएसपी ही 712.99 करोड़ का नुकसान हुआ। बाकी इकाइयां घाटे में रही। तीसरी तिमाही में सेल को 429 करोड़ का घाटा हुआ। जिसके कारण कंपनी का वर्तमान वित्त वर्ष के पहले 9 महीने में उसके घाटे का आंकड़ा 703.62 करोड़ में पहुंच गया है। रेलपांत का उत्पादन बढ़ने से बीएसपी को बड़ी राहत मिली। दूसरी तिमाही के बाद तीसरी तिमाही में भी बीएसपी प्रॉफिट में रही। हालांकि दूसरी तिमाही के मुकाबले इस तिमाही में उसका प्रॉफिट कम हुआ है।

दूसरी तिमाही में जहां उसे 860 करोड़ का प्रॉफिट हुआ था। वहीं इस तिमाही में उसे 712.99 करोड़ का प्रॉफिट हुआ है। अंतिम तिमाही में बीएसपी के और भी बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है क्योंकि उसे पहली बार 10 लाख टन से अधिक रेलपांत भेजने का रिकार्ड दिसंबर में दर्ज कर चुका है। रेलवे की डिमांड साढ़े 13 लाख है। बीएसपी प्रबंधन की कोशिश उस आंकड़े तक पहुंचने की है। यदि ऐसा हुआ तो अंतिम तिमाही में सेल के भी बढ़े प्रॉफिट में आने की उम्मीद है।

उत्पादन में भी 8.5 प्रतिशत का सुधार

तकनीकी-आर्थिक मानकों जैसे ब्लास्ट फर्नेस उत्पादकता में 12.4%, कोक रेट में 5.3%, कॉल डस्ट इंजेक्शन (सीडीआई) उपयोग में 40%, विशिष्ट ऊर्जा की खपत में 2.4%, कॉनकास्ट रूट के माध्यम से उत्पादन में 8.5% सुधार दर्ज किया है।

जानिए...प्लांटवार लाभ और नुकसान का आंकड़ा

प्लांट प्राफिट/लास

बीएसपी +712.99

दुर्गापुर -77.88

राउरकेला -205.40

बोकारो -65.97

इस्को -152.25

अलाय स्टील -22.48

सलेम स्टील -57.58

विश्वेसरैया -19.71

अन्य 146.25

इस्पात उत्पादन बढ़ाने के प्रयासों में लाई गई तेजी

अनिल चौधरी, चेयरमैन, सेल

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना