कोरोना के इलाज के लिए अब ट्रेनों की 111 बोगियों में बनाए जाएंगे 888 आइसोलेशन वार्ड

Bhilai News - एक कोच में 8 वार्ड रेलवे बोर्ड ने रायपुर और बिलासपुर मंडलों में बोगियों को कोरोना के इलाज के लिए अाइसोलेशन...

Mar 31, 2020, 06:46 AM IST
एक कोच में 8 वार्ड

रेलवे बोर्ड ने रायपुर और बिलासपुर मंडलों में बोगियों को कोरोना के इलाज के लिए अाइसोलेशन वार्ड में तब्दील करने का निर्देश जारी किया और दोनों ही स्टेशनों में 111 डिब्बों को वार्ड में बदलने का काम सोमवार को शुरू कर दिया गया। दुर्ग में 51 और बिलासपुर में 60 बोगियों को अाइसोलेशन वार्ड में तब्दील किया जाएगा। इससे कुल 888 बेड तैयार हो जाएंगे, जहां कोरोना के मरीजों को भर्ती कर इलाज किया जाएगा। सबसे खास बात ये है कि वार्ड में तब्दील ये बोगियां ऐसे सभी शहरों और कस्बों में जरूरत पर ले जाई जा सकेंगी, जो रेलवे ट्रैक के किनारे या नजदीक हैं। इससे पहले, प्रदेश में 20 डिब्बों को ही अाईसोलेशन वार्ड में बदलने के निर्देश दिए थे।

(रिपोर्टर फोटो स्टोरी : अमनेश दुबे)

इस तरह बनाया गया है आइसोलेशन वार्ड।

मिडिल बर्थ को हटाकर बनाया जा रहा है वार्ड।

स्लीपर कोच की खिड़की को कर रहे पूरी तरह से बंद।



**

दुर्ग और बिलासपुर के कोचिंग डिपो में बोगियों को आइसोलेशन वार्ड बनाने का काम चल रहा है। हर कोच में 8 वार्ड और एक डॉक्टर केबिन बनाया जा रहा हैदुर्ग के कोचिंग डिपो में 5 बोगियों में आइसोलेशन वार्ड भी बना लिया गया है।

कई भवनों में क्वारंटाइन

रेलवे प्रशासन ने ने डब्ल्यूआरएस कॉलोनी में खारुन विहार इंस्टीट्यूट में 60 बेड का आइसोलेशन सेंटर तैयार कर लिया गया। यही नहीं, रेलवे सुरक्षा बल (अारपीएफ) की बैरक में 23 बेड बनाए गए हैं। इसी तरह रायपुर रेल मंडल में करीब 200 क्वारंटाइन बेड बनाए जा रहे हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना