• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • Bhilai News chhattisgarh news change the color of the napkin removed from the children39s body and hair from empty flask visible note printing machine

खाली कुप्पी से बच्चों के शरीर व बाल से निकाला दूध रुमाल का रंग बदला, दिखाई नोट छापने की मशीन

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 06:55 AM IST

Durg Bhilai News - बच्चे उस समय अचंभित हो गए जब उनके हाथ और बाल से दूध निकलने लगे। कुप्पी का पूरा दूध अलग-अलग बच्चों के शरीर से निकाला...

Bhilai News - chhattisgarh news change the color of the napkin removed from the children39s body and hair from empty flask visible note printing machine
बच्चे उस समय अचंभित हो गए जब उनके हाथ और बाल से दूध निकलने लगे। कुप्पी का पूरा दूध अलग-अलग बच्चों के शरीर से निकाला गया जिसे देख बच्चे चौक गए। दरअसल यह बच्चों को शिविर में सिखाए जा रहे जादू और नाटक का एक हिस्सा था।

सूत्रधार और बालरंग द्वारा चलाए जा रहे बहुआयामी नाट्य प्रशिक्षण शिविर में शुक्रवार को जादू का प्रदर्शन किया गया। जिसमें विभाष उपाध्याय ने प्रोफेशनल मेजिशियन की अनुपस्थिति में प्रतिभागी बाल कलाकारों को स्वयं अनेक जादू के खेल दिखा कर चौंका दिया। सबसे रोमांचित जादू बच्चों दूध वाला ही लगा जब उनके शरीर के कई हिस्सों से दूध निकलने लगा।

बच्चों को बताया जादू करने का तरीका, दिए टिप्स

इस दौरान विभाष ने अनेकों नाटक से बच्चों को जानकारी दी। इस जादू में पहले रूमाल को हथेली में रखा। इसके बाद मुठ्ठी को बंद किया। लेकिन जब मुट्ठी खोला तो रुमाल गायब था। इसके बाद दो रुमाल का अचानक से रंग बदलता देख बच्चों ने भी इस जादू को करने का प्रयास किया। इसके अलावा खाली किताब को 100 रुपये के नोट से भर दिया।

बच्चों ने जमा की पेंटिग्स

सुबह के नियमित आंगिक और वाचिक व्यायाम के बाद जादू प्रदर्शन हुआ। इसके बाद बाल नाटक फुलवारी और पर्यावरण पर आधारित गीत नाटिका का अभ्यास जारी रहा। बच्चों ने एक दिन पूर्व सीखी पेंटिग को फिनिश कर जमा की गई। सूत्रधार थियेटर अकादमी की अध्यक्ष अनीता उपाध्याय ने कहा कि नाट्य प्रशिक्षण कार्यशाला आज तक नए प्रशिक्षार्थियों का आना जारी है।

बच्चे दिखाएंगे प्रतिभा

सूत्रधार और बालरंग द्वारा चलाए जा रहे बहुआयामी नाट्य प्रशिक्षण शिविर 5 मई से आयोजित है। जिसका समापन 2 जून को किया जाएगा। अंतिम दिन इस शिविर में सीखे सभी कला का बच्चे प्रदर्शन करेंगे। इसमें नाटक और चित्रकला समेत अन्य कलाएं भी शामिल होंगी। शिविर में 80 बच्चों ने रजिस्ट्रेशन कराया था जिसमें रोजाना 50 से 60 बच्चे शामिल हो रहे हैं।

X
Bhilai News - chhattisgarh news change the color of the napkin removed from the children39s body and hair from empty flask visible note printing machine
COMMENT