कोसा उत्पादन के लिए संभावना तलाशने पाटन पहुंचे डायरेक्टर

Bhilaidurg News - छग ग्रामोद्योग विभाग के संचालक खलको ने क्षेत्र का निरीक्षण किया। प्रशासनिक रिपोर्टर | भिलाई पाटन क्षेत्र में...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 06:42 AM IST
Bhilai News - chhattisgarh news director reached patan to explore possibilities for cosa production
छग ग्रामोद्योग विभाग के संचालक खलको ने क्षेत्र का निरीक्षण किया।

प्रशासनिक रिपोर्टर | भिलाई

पाटन क्षेत्र में नैसर्गिक कोसा उत्पादन की असीम संभावनाएं हैं। पाटन क्षेत्र में अर्जुना वृक्षों की संख्या लगभग 4 लाख 36 हजार है। इन बड़े-बड़े अर्जुना वृक्षों में कोसा पालन करने के बजाय नैसर्गिक रूप से कोसा उत्पादन के लिए अनुकूल हैं। पाटन क्षेत्र में ग्रामोद्योग विभाग के अंतर्गत कोसा संग्रहण एवं कोसा वस्त्र निर्माण से लोगांे को अतिरिक्त रोजगार प्राप्त होता है। भारत के कोसा उत्पादन में छत्तीसगढ़ का दूसरा स्थान हैं। इन कोसा फलों से 300 करोड़ रुपए के कोसा वस्त्र प्रतिवर्ष बनाए जाते हैं। विभाग से मिली जानकारी के अनुसार छत्तीसगढ़ ग्रामोद्योग विभाग के संचालक सुधाकर खलको ने अपने पाटन प्रवास के दौरान बताया कि पाटन क्षेत्र में विशेष ध्यान देकर नैसर्गिक कोसा उत्पादन को बढ़ाने कार्यवाही प्रगति पर है।

X
Bhilai News - chhattisgarh news director reached patan to explore possibilities for cosa production
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना