29 करोड़ से 638 आवास बनाने टेंडर प्रक्रिया में पहले हुई देरी, अब प्रोजेक्ट निर्माण में भी लेट

Bhilaidurg News - शहर में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवासों के निर्माण में एक और गड़बड़ी सामने आई है। अगस्त 2018 में सरस्वती नगर में...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 06:56 AM IST
Durg News - chhattisgarh news earlier delay in tendering process to build 638 houses from 29 crores now delay in project construction
शहर में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवासों के निर्माण में एक और गड़बड़ी सामने आई है। अगस्त 2018 में सरस्वती नगर में करीब 638 आवास बनाने के लिए प्रोजेक्ट तैयार कर मंजूरी ली। सारी प्रक्रिया पूरी कर टेंडर भी जारी कर दिया। कार्य एजेंसियों के एक्सपर्ट्स ने स्थल निरीक्षण किया। उस समय पता चला कि जो लागत तय की गई है, उसमें कार्य संभव ही नहीं है। तय 2.67 हेक्टेयर की जगह दलदल है।

करीब 10 फीट नीचे तक पिलर खड़े करने होंगे, गड्ढा खोदना होगा और फिलिंग करानी होगी। उस समय टेंडर में किसी भी ठेकेदार ने भाग नहीं लिया। बाद में 29 करोड़ के इस प्रोजेक्ट की लागत 1 करोड़ तक बढ़ा दी गई। पुन: टेंडर बुलाया गया, उसमें भी केवल एक एजेंसी ओम एसोसिएट्स कवर्धा ने भाग लिया। उसे कार्य जारी कर दिया गया। अब निगम की तरफ से इस जगह का सीमांकन कराया जा हा। शुक्रवार को निगम और राजस्व विभाग का अमला मौके पर पहुंचा। इस काम में वक्त लग सकता है।

सिर्फ कागजी कार्रवाई: अगस्त 2018 से चल रही प्रक्रिया, अब करा रहे परिसीमन

सीमांकन के लिए पहुंचे निगम व राजस्व विभाग के अफसर।

ड्राइंग-डिजाइन बनाते वक्त नहीं रखा ध्यान

निगम के तरफ से प्रोजेक्ट तैयार करने के दौरान ही सीमांकन की प्रक्रिया की जानी थी। जब जगह दलदली थी तो उस समय इसे प्रोजेक्ट में शामिल क्यों नहीं किया गया। इतना ही नहीं इस क्षेत्र में अतिक्रमण है। वही तालाब की जगह को पाटा जा रहा। उस समय पर यह प्लान तैयार किया गया। आपत्ति के बाद भी लगातार अनदेखी की गई।

20 फीट चौड़ी सड़क का किया जाएगा निर्माण

शुक्रवार को निगम अमले ने सीमांकन की प्रक्रिया पूरी की। इस दौरान 8 मकानों का सर्वे किया गया। इस जगह पर करीब 20 फीट की सड़क का निर्माण किया जाएगा। ताकि आवास तक पहुंच मार्ग बनाया जा सके। निगम अब इन परिवारों को नोटिस जारी कर कब्जा हटाने की कार्रवाई करेगा। 22 ब्लॉक में यह आवास तैयार किए जाने हैं।

आवासहीनों के लिए योजना, लगातार लापरवाही

पीएम आवास योजना आवासहीन को आवास बनाकर देने तैयार की जा रही। दुर्ग में भी इसके तहत प्रथम चरण में कॉलोनाइजर्स से ईडब्ल्यूएस की जमीन पर निर्माण शुरू किया गया है। 5.11 लाख रुपए एक आवास के लिए तय है। बोरसी में बीएसबीके नामक एजेंसी से आवासों का निर्माण कराया जा रहा। करीब 24 करोड़ 83 लाख 46 हजार रुपए इस पर खर्च किए जा रहे। इसके अलावा पुलगांव में पुलगांव में 516 आवासों की मंजूरी ली गई। 24.84 करोड़ रुपए की लागत से इसे बनाया जाना है। 1.50 हेक्टेयर जगह चिन्हित कर कार्य भी शुरू कर दिया गया। यहां अतिक्रमण के बाद 124 आवासों का निर्माण कम कर दिया गया।

दुर्ग के 17 हजार परिवारों के है इंतजार

निगम ने योजना के तहत आवास के लिए आवेदन लिए। उनका सत्यापन किया। करीब 17 हजार आवेदनकर्ता हैं। उन्हें आवास का इंतजार है। इन आवासहीन लोगों में राजीव नगर, सरस्वती नगर, नयापारा, कुंदरा पारा, शक्तिनगर, आदि इलाके में योजना लागू है।

बोरसी में भी गड़बड़ी

इधर बोरसी में करीब 486 आवासों का निर्माण किया जाना है। करीब साढ़े 300 आवासों का निर्माण भी पूरा कर लिया गया है, लेकिन बिजली व पेयजल के इंतजाम अब तक नहीं हो पाए हैं। निगम भी गंभीर नहीं दिख रहा।

गलत डिजाइन बना था


X
Durg News - chhattisgarh news earlier delay in tendering process to build 638 houses from 29 crores now delay in project construction
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना