टाउनशिप में भी बिजली बिल हो आधा रिसाली सेक्टर में दें एक साथ 2 मकान

Bhilai News - राज्य सरकार ने राज्य में बिजली बिल आधा कर दिया है, लेकिन टाउनशिप में बिल अभी तक आधा नहीं हुआ है। इस मुद्दे को लेकर...

Nov 11, 2019, 06:41 AM IST
राज्य सरकार ने राज्य में बिजली बिल आधा कर दिया है, लेकिन टाउनशिप में बिल अभी तक आधा नहीं हुआ है। इस मुद्दे को लेकर बीएसपी के अधिकारियों की एक बैठक बिजली कंपनी के अधिकारियों के साथ हो चुकी है। फिर भी अभी तक कोई फैसला नहीं लिया जा सका है। इस पर कर्मचारियों ने कर्मचारियों ने आक्रोश व्यक्त किया है। उन्होंने टाउनशिप में व्याप्त समस्याओं और आवास आवंटन के नियमों भी संशोधन की मांग की है।

बैठक में इस्पात श्रमिक मंच के उप महासचिव दीपक सोनी ने राज्य की तरह टाउनशिप में भी बिजली बिल आधा करने की बात कही। बिजली कंपनी से बैठक होने का भी हवाला दिया। कहा कि उम्मीद करते हैं कि इस पर जल्दी ही कोई फैसला हो जाएगा। मंच के सदस्यों ने जहां आवास नहीं लेने पर एक साल के बैन को हटाने, स्थायी मेडिकल अनफिट कर्मियों के आश्रितों को दो ग्रेड ऊपर और कर्मी के परिवार या फिर खुद के अनफिट होने पर एक ग्रेड ऊपर मकान देने तथा अवैध कब्जा से बचाने के लिए रिसाली में नए और कम ग्रेड कर्मियों को दो मकान एक साथ ट्विंस के रूप में देने की मांग की गई। बैठक में टाउनशिप क्षेत्र के समस्याओं का समाधान जल्दी करने की मांग रखी।

मंथन: बीएसपी क्वार्टर मेंटेनेंस का मुद्दा भी श्रमिक मंच ने रखा

इस्पात श्रमिक मंच ने प्रबंधन के साथ विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

कर्मियों के हित में लिया जाएगा आवंटन का फैसला

इस पर अफसरों ने कहा कि यह अच्छा विचार है। इस दिशा में आगे अवश्य काम करेंगे। महासचिव राजेश अग्रवाल ने कहा कि आवास आवंटन के नियमों को कर्मचारियों के हित में बदला जाए। पहले की तरह सब्जेक्ट टू वेकेशन आवास आबंटन प्रक्रिया शुरू किया जाए। कार्यकारी अध्यक्ष शेख महमूद ने मकानों में हो रहे अवैध कब्जा को रोकने के लिए रिसाली में ट्विंस मकान देने की बात कही। उप महासचिव किशोर मराठे ने मकानों के मेंटेनेंस कराने की बात कही। अफसरों ने आश्वस्त किया कि इस बार ज्यादा पार्टी को काम दिया जा रहा है। जल्दी काम पूरा होगा।

घरों की छत पर टारफेल्टिंग को जल्द पूरा करें

मंच के सचिव विमलकांत पांडेय ने मांग की कि टारफेल्टिंग की शिकायत को जल्द दूर किया जाए। वर्तमान में मौसम खुला हुआ है। इसका फायदा उठाते हुए आने वाले महीनों में इस समस्या को हल किया जा सकता है। इस पर आश्वासन दिया गया कि आने वाले महीनों में छत में कोलतार डाल दिया जाएगा। इससे लीकेज की समस्या दूर हो जाएगी। उपाध्यक्ष यशवंत एवं सचिव पापा राव ने टाउनशिप में नियमित बुश कटिंग नहीं होने की बात कही। स्कूलों में नियमित कचरा नहीं उठाए जाने से दिक्कतें हो रही हैं। बैक लेन सफाई भी नहीं हो रही। सुअरों का भी आतंक है। इस पर स्वास्थ्य अधिकारी केके यादव ने कहा की ठेकेदार काम छोड़कर चला गया है। जल्दी इसे शुरू करेंगे। प्रबंधन ने समाधान का आश्वासन दिया है।

इस्पात क्लबों में बुकिंग ऑनलाइन किया जाए

बैठक में सेक्टरों में इस्पात क्लब की बुकिंग को ऑनलाइन करने, मॉडल स्कूलों की संख्या बढ़ाने, सड़कों के ब्रेकर हटाने के बाद हुए गड्ढे को भरने, वेलकम स्कीम में तेजी लाने, वाटर मैनेजमेंट स्टॉप क्वार्टर की बाउंड्री वॉल ठीक करने, टाउनशिप में बिजली चोरी रोकने एवं स्कूलों में बीएसपी कर्मियों और बाहर के बच्चों को भी प्रवेश देने की मांग की गई। बैठक में अफसर पीके घोष, दिनेश कुमार, सुब्रत प्रहराज, एसएन सत्पथी, केके यादव, बसंत साहू, आर गर्ग आदि मौजूद रहे।

सिविक सेंटर की सड़क है खराब, मेंटेनेंस भी जरूरी

सचिव मंगेश हरदास ने चीफ जनरल मैनेजर (टाउनशिप) से मांग की, कि सिविक सेंटर की सड़क काफी खराब है। इसमें हमारे कर्मचारी आते-जाते समय गिरकर घायल हो रहे हैं। बरसात के दिनों में सड़क पर बने गड्ढों पर पानी भर जाता है। इससे समस्या विकराल हो गई है। कर्मचारियों की सुविधाओं का ध्यान रखते हुए इस सड़क को जल्द से जल्द ठीक किया जाए। इस पर सड़क सुधारने की बात कही गई।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना