वायर रॉड मिल की सड़कों पर गड्ढों से कर्मचारी परेशान, हादसे भी हो चुके हैं

Bhilaidurg News - वायर रॉड मिल एवं मर्चेंट मिलकर कर्मचारियों से मिल रही शिकायतों को देखते हुए रेपिड पावर कमेटी के प्रभारी निर्मल...

Nov 21, 2019, 06:42 AM IST
Bhilai News - chhattisgarh news employees have been troubled by pits on the roads of wire rod mill accidents have also taken place
वायर रॉड मिल एवं मर्चेंट मिलकर कर्मचारियों से मिल रही शिकायतों को देखते हुए रेपिड पावर कमेटी के प्रभारी निर्मल मिश्रा एवं मिल एरिया के जोन प्रभारी बीवी मिश्रा के नेतृत्व में बीआईएमएस के प्रतिनिधिमंडल ने खुर्सीपार गेट से लेकर मर्चेंट मिल वायर रॉड मिल तक का दौरा किया। कर्मचारियों की मुख्य शिकायत रोड की बढ़ती धुल एवं गड्ढों को लेकर थी। जिसके कारण लगातार हादसे हो रहे हैं।

नाराज कर्मियों का कहना है कि ट्रकों की आवाजाही के कारण उड़ती धूल अस्थमा जैसी घातक बीमारियों को जन्म दे रही है। प्रतिनिधि मंडल द्वारा उस स्थान का दौरा करने के बाद वहां के जीएम जेवियर बैक से मुलाकात की गई एवं स्थिति की गंभीरता से उन्हें अवगत कराया गया। जीएम ने इस पर उचित कार्यवाही का भरोसा दिलाया। उपाध्यक्ष सोम भारती सुझाव दिया कि जब तक रोड का संधारण नहीं हो तब तक स्प्रिंकलर के द्वारा पानी के छिड़काव करके धूल की समस्या से निजात पाई जा सकती है। उपाध्यक्ष राजेश चौहान का कहना है कि ट्रकों और टेलर लगातार चलते रहते हैं. चालक उन्हें कहीं भी खड़ा कर देते हैं जिससे जाम की स्थिति बन जाती है। इस दौरान गंभीर दुर्घटना होने पर उस स्थिति में एंबुलेंस एवं फायर ब्रिगेड का उस स्थान पर पहुंचना मुश्किल हो जाएगा। उपाध्यक्ष हरिशंकर चतुर्वेदी ने सवाल उठाया कि जब ठेकेदार लोग अपनी मनमानी कर रहे हैं तो प्रबंधन उनके खिलाफ क्या कार्रवाई कर रहा है? प्रतिनिधि मंडल में आरके पांडे, एके माहौर, अनिल जैन, राजेश पांडे, प्रवीण मार्डीकर, श्रीनिवास मिश्रा, विनोद उपाध्याय, शारदा गुप्ता, यसजीत चौहान, वीवी प्रसाद उपस्थित थे।

शिकायत के बाद बाद प्रतिनिधमंडल ने मौके का मुआयना किया।

X
Bhilai News - chhattisgarh news employees have been troubled by pits on the roads of wire rod mill accidents have also taken place
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना