खाद्य विभाग की कार्रवाई, पीडीएस के 19 लाख रुपए का चावल जब्त

Bhilai News - पुलिस और खाद्य विभाग की संयुक्त टीम ने पकड़ा जिले में इन दिनों पीडीएस चावल की कालाबाजारी धड़ल्ले से चल रही है। 10...

Feb 22, 2020, 07:01 AM IST

पुलिस और खाद्य विभाग की संयुक्त टीम ने पकड़ा

जिले में इन दिनों पीडीएस चावल की कालाबाजारी धड़ल्ले से चल रही है। 10 दिनों में दूसरी बार पुलिस व खाद्य विभाग की संयुक्त टीम ने करीब 19 लाख रुपए का पीडीएस चावल जब्त किया है।

नागरिक आपूर्ति निगम के अधिकारियों की प्रारंभिक जांच के बाद चावल को पीडीएस के समतुल्य माना गया और कार्रवाई करते हुए 3 लोगों के खिलाफ कोतवाली थाने दुर्ग में अपराध दर्ज किया गया। मुख्य आरोपी किशन खंडेलवाल मामले में अब तक फरार है। उस पर पहले भी पीडीएस चावल अफरा-तफरी के आरोप लगे हैं, पुलिस ने अपराध भी दर्ज किया है। फिलहाल उसकी खोजबीन की जा रही है। मामले में दो अन्य आरोपी उरला निवासी संतोष चंद्राकर (50 वर्ष) व दूसरा गंजपारा निवासी सनत यादव (19 वर्ष) है। उनके विरुद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम की धारा 3 व 7 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। उनके खिलाफ मामले की जांच की जाएगी। इसके बाद नियमानुसार उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। आगे भी कार्रवाई अभी चलेगी।

आप भी जानिए... क्या है पूरा मामला


मुखबिर से सुबह करीब 6 बजे पुलिस व खाद्य विभाग को खबर मिली कि स्टेशन रोड पर शंकर नाला के करीब एक दुकान से चावल लोड हो रहा है। संदेह है कि यह चावल पीडीएस का है। इसके बाद टीम मौके पर पहुंचे। चावल के संबंध में दस्तावेजी साक्ष्य मांगा गया। दस्तावेज प्रस्तुत नहीं करने पर ट्रक क्रमांक सीजी 08 एल 1981 व अल्फा वाहन क्रमांक सीजी 07 सीए 7044 पुलिस थाने ले आई। इसके बाद चावल का परीक्षण कराया गया। ट्रक में जहां 559 बोरियां चावल की मिली। वहीं अल्फा वाहन में 750 किलोग्राम चावल लोड था। कुल 59 टन चावल पुलिस ने मौके से जब्त किया। इसकी कीमत करीब 19.32 लाख रुपए आंकी गई है। पुलिस को जांच में पता चला है कि इसे ट्रक में लोड कर गोंदिया महाराष्ट्र भेजा जा रहा था।


काला बाजारी का भास्कर ने किया था खुलासा

पीडीएस के चावल की अफरा-तफरी के मामले को दैनिक भास्कर ने एक्सपोज किया। स्टिंग के जरिए पूरे रैकेट के कार्य का खुलासा किया। राशन दुकानों से चावल माफियाओं तक इसके पहुंचने के सिस्टम की पूरी जानकारी दी। इसके बाद पुलिस व खाद्य विभाग हरकत में आई और नियमित रूप से जांच शुरू की गई।

तीन कारोबारी के खिलाफ प्रकरण किया गया है दर्ज

सरकारी चावल की अफरा-तफरी का यह दूसरा मामला है। इससे पहले 11 जनवरी को जेवरा पुलिस चौकी अंतर्गत चिखली चौक पर पुलिस ने करीब 255 क्विंटल चावल जब्त किया था। मामले में कैलाश ग्रेन के संचालक श्रीपाल जैन, अग्रवाल ट्रांसपोर्ट के मालिक अजय अग्रवाल, ट्रांसपोर्ट मोहम्मद खान व ड्रायवर सैय्यद शौकत के खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले की जांच की जा रही। इसे भी गोंदिया महाराष्ट्र भेजने की तैयारी थी। इस प्रकार 10 दिनों के अंदर दो घटनाएं सामने आईं।

सुबह सबेरे ही ट्रक में चावल लोडिंग का काम चल रहा था।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना