रिसाली निगम में पुरैना वार्ड को जोड़ने का विरोध, लोगों ने लिखित में दिया आवेदन

Bhilai News - प्रस्तावित रिसाली निगम में पुरैना को जोड़े जाने का वार्ड के रहवासियों ने पुरजोर विरोध किया है। इस संबंध कलेक्टर...

Dec 04, 2019, 07:57 AM IST
प्रस्तावित रिसाली निगम में पुरैना को जोड़े जाने का वार्ड के रहवासियों ने पुरजोर विरोध किया है। इस संबंध कलेक्टर कार्यालय में जाकर लोगों ने अपनी आपत्ति दर्ज कराई है। वार्ड 39 वासियों का कहना है कि क्षेत्रीय लोगों के लिए पहले से ही भिलाई निगम दूर पड़ता है। अब रिसाली में उन्हें शामिल कराकर उनकी परेशानियों को और बढ़ाया जा रहा है।

20 नवंबर को राजपत्र में प्रकाशन से रिसाली निगम बनने की घोषणा की गई। भिलाई निगम के जोरातराई, डुंडेरा, नेवई भाठा, स्टेशन मरोदा, मरोदा कैंप मोहारा भाठा, मरोदा सेक्टर, रिसाली सेक्टर उत्तर, रिसाली सेक्टर दक्षिण, रिसाली बस्ती, प्रगति नगर रिसाली, रूआबांधा सेक्टर, और पुरैना को शामिल करके 13 निगम का वार्ड बनाने की घोषणा हुई।

कलेक्टर कार्यालय में जाकर लोगों ने अपनी आपत्ति दर्ज कराई है।

रिसाली निगम में शामिल होने से और बढ़ गई समस्या

कलेक्टोरेट में आपत्ति दर्ज कराने आए पार्थ महानंद ने बताया कि वार्ड के 39 का पोस्ट ऑफिस भिलाई-3, थाना भिलाई-3, उपतहसील और स्कूल समेत कोर्ट के काम के लिए चरोदा निगम क्षेत्र में जाना पड़ता है। सभी उनका वार्ड भिलाई निगम क्षेत्र में शामिल है। वर्तमान में ही यहां के चक्कर काटना पहले से ही ग्रामवासियों के लिए कष्टदायी है। रिसाली निगम में शामिल होने से लोगों की परेशानियां और भी ज्यादा बढ़ जाएंगी।

चरोदा-भिलाई निगम में शामिल करने गुहार

वार्डवासी उमेश कुमार, चिंतामणि बाग, शंकर तांड़ी समेत तमाम लोगों ने शासन से रिसाली निगम में शामिल न करते हुए चरोदा-भिलाई निगम में शामिल करने की गुहार लगाई है। इसी क्षेत्र के शासकीय और अशासकीय स्कूलों में उनके बच्चे भी पढ़ने जाते हैं। केवल जन्म-मृत्यु और विवाह प्रमाण और संपत्तिकर संबंधी समस्याओं को ग्रामवासियों की पूरी निर्भरता चरोदा-भिलाई निगम क्षेत्र में आने वाले संस्थानों पर है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना