• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • Durg News chhattisgarh news residential schools will be available to children of naxal affected areas in the fort 500 children will be able to study

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के बच्चों को दुर्ग में मिलेगा आवासीय स्कूल, साथ रहकर पढ़ सकेंगे 500 बच्चे

Durg Bhilai News - प्रदेश के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के बच्चों की बेहतर शिक्षा के लिए जिले में आवासीय स्कूल खोला जाएगा। करीब 500...

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 02:31 AM IST
Durg News - chhattisgarh news residential schools will be available to children of naxal affected areas in the fort 500 children will be able to study
प्रदेश के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के बच्चों की बेहतर शिक्षा के लिए जिले में आवासीय स्कूल खोला जाएगा। करीब 500 बच्चों के रहकर पढ़ने की सुविधा इस स्कूल में रहेगी। दो बार जगह बदलने के बाद अंतत: इसके लिए पॉलीटेक्निक कॉलेज परिसर में जगह फाइनल कर दी गई है। साथ ही काम की भी शुरुआत कर दी गई है।

अक्टूबर महीने तक इसके पूरा होने की संभावना भी जताई जा रही। प्रदेश में यह अपने तरह का पहला स्कूल होगा, जहां इतनी बड़ी संख्या में नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के बच्चों को लाकर बेहतर शिक्षा दिलाई जाएगी। स्कूल में कक्षा 9 वीं से 12 वीं तक के बच्चों को रहने-खानेपीने व पढ़ने के लिए पूरे इंतजाम होेंगे। आदिम जाति कल्याण विभाग के माध्यम से इस स्कूल का संचालन होगा। वर्तमान में कार्य एजेंसी लोक निर्माण विभाग को बनाया गया है।

ये होंगे इंतजाम: रहने, खाने और पढ़ने की मिलेगी सुविधा

दो ब्लॉक में किया जाएगा अावासों का निर्माण कार्य

राज्य शासन ने इस योजना के लिए तकनीकी स्वीकृति करीब 17 करोड़ 26 लाख 40 हजार रुपए की दी। बाद में कार्य एजेंसी तय होने के साथ इसकी अनुमानित लागत 15 करोड़ 1 लाख 10 हजार रुपए हो गई। कार्य एजेंसी नाकोडा कंस्ट्रक्शन दल्लीराजहरा है। 18 महीने में एजेंसी को काम पूरा करना है। करीब 500 आवास बनाए जाने हैं। इसमें बालकों व बालिकाओं के लिए अलग-अलग आवास व स्कूल का निर्माण किया जाना है। करीब 16 एकड़ की जगह पर यह निर्माण किया जा रहा है। दो बार जगह बदलने के बाद इसके लिए पॉलीटेक्निक कॉलेज के पास जगह तय की गई है। अक्टूबर तक निर्माण पूरा होगा।

पॉलीटेक्निक कॉलेज परिसर में इस प्रकार जारी है स्कूल का काम।

इसलिए बदली गई दो बार आवासीय स्कूल की जगह

योजना के तहत आवासीय स्कूल निर्माण को लेकर एक साल के अंदर दो बार जगह बदली जा चुकी है। पहले धमधा रोड पर जुनवानी के करीब जगह चिन्हित की गई। बाद में पोटिया से बोरसी मार्ग पर नजूल की जगह पर आवासीय स्कूल निर्माण किया जाना तय किया। जुनवानी में आईआईटी प्रस्तावित होने की वजह से वहां स्कूल नहीं खुल सका। वहीं पोटिया से बोरसी मार्ग पर नजूल की जगह पर अतिक्रमण के चलते जगह चिन्हित नहीं की जा सकी। इसके बाद पॉलीटेक्निक कॉलेज में निर्माण किया जाना तय हुआ।

जानिए... अभी जिले में िकतने हैं हॉस्टल






परिसर में 2 आवासीय कोचिंग सेंटर भी होंगे

आदिवासी अंचलों के बच्चों के लिए इस परिसर में दो आवासीय कोचिंग सेंटर भी खुलेंगे। जहां स्नातक व स्नातकोत्तर के लिए स्टूडेंट्स रहकर कोचिंग कर सकेंगे। दोनों हॉस्टल्स 50-50 सीटर होंगे। सिर्फ आदिवासी वर्ग के स्टूडेंट्स रहेंगे। दोनों हॉस्टल के निर्माण पर करीब 1.75 करोड़ रुपए खर्च हाेंगे। यहां उन्हें प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए भी प्रशिक्षण दिया जाएगा।

आवासीय स्कूल का निर्माण कार्य हो चुका शुरू


X
Durg News - chhattisgarh news residential schools will be available to children of naxal affected areas in the fort 500 children will be able to study
COMMENT