प्राचीन शिव मंदिर में महाशिवरात्रि पर रूद्राभिषेक व हवन, पूजन, महिलाओं के लिए चेंजिंग रूम की मांग

Bhilaidurg News - प्राचीन शिव मंदिर समिति के तत्वावधान में महाशिवरात्रि पर शिवनाथ नदी तट पर मेला के साथ हवन, पूजन व विशेष अभिषेक का...

Feb 15, 2020, 06:41 AM IST

प्राचीन शिव मंदिर समिति के तत्वावधान में महाशिवरात्रि पर शिवनाथ नदी तट पर मेला के साथ हवन, पूजन व विशेष अभिषेक का आयोजन 21 फरवरी को किया गया है। इसके लिए मंदिर का रंगरोगन व विद्युत साज-सज्जा की जा रही है।

मंदिर समिति के अध्यक्ष राजू शर्मा ने बताया कि मंदिर में करीब 200 वर्ष प्राचीन शिवलिंग स्थापित है, जिसके दर्शन के लिए हजारों की संख्या में भक्त आते हैं। महाशिवरात्रि के एक दिन पूर्व 20 फरवरी को परिसर में स्थापित सांई बाबा की प्रतिमा का अभिषेक और मां शीतला, शनिदेव, नागदेव, ठाकुर देव मंदिर में हवन, पूजन किया जाएगा। प्रसादी बांटी जाएगी। रात में रामायण का पाठ होगा। इसके बाद 20 फरवरी की अर्धरात्रि से 3 बजे से रूद्राभिषेक किया जाएगा। इसके बाद सुबह 4 बजे से भोलेनाथ की सामूहिक आरती होगी। समिति द्वारा भक्तों दोपहर 12 बजे से महाप्रसादी का वितरण किया जाएगा। आयोजन की तैयारी में मयाराम चंदेल, चंद्रकांत गौतम, सतीश खराशु, संतोष यादव, अरूण सोनवाने, अरूण वेंगड़, अधिवक्ता एसके गौतम, पराग, पप्पू गिलानी सहित सदस्य जुटे हुए हैं।

महिलाओं के लिए चेंजिंग रूम व बैठक व्यवस्था की मांग: मंदिर समिति के राजू शर्मा, निशिकांत शर्मा, संजय बावनकर, विजय शर्मा ने बताया कि महाशिवरात्रि पर सुबह स्नान के लिए हजारों की संख्या में भक्त आते हैं। इनमें महिलाएं भी शामिल होती हैं, जिन्हें स्नान के बाद चेंजिंग रूम नहीं होने से परेशानी का सामना करना पड़ता है। यह स्थिति सालभर में होने वाले कई पर्वों के दौरान बनी रहती है। इसलिए स्थाई तौर पर चेंजिंग रूम बनाया जाएगा। इसके अलावा मंदिर प्रांगण में बुजुर्गों के बैठने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है। उनके लिए कुर्सियां लगाई जाएं।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना