बीच बचाव करने वाले पर हमला अधमरा छोड़ भागे, सुबह मिला शव

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 06:36 AM IST

Durg Bhilai News - रायपुर | गुढियारी बिजली गोदाम के पास गुरुवार रात दोस्तों के बीच हुए विवाद में बीचबचाव करने वाले ट्रांसपोर्टर...

Durg News - chhattisgarh news the attack on the defending center left the goddess found dead in the morning
रायपुर | गुढियारी बिजली गोदाम के पास गुरुवार रात दोस्तों के बीच हुए विवाद में बीचबचाव करने वाले ट्रांसपोर्टर प्यारेलाल पासवान की उसके दोस्तों ने हत्या कर दी। मारपीट के बाद उसे चबूतरे में अधमरा छोड़कर चले गए। सुबह लोगों ने जब उसे देखा तब करीब जाकर देखा। उसकी मौत हो चुकी थी। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने कुछ घंटों के भीतर ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया।

पुलिस के मुताबिक भनपुरी दुर्गानगर का प्यारेलाल पासवान(43)ट्रांसपोर्ट का काम करता था। पुलिस ने उसकी हत्या के आरोप में गुढ़यारी के सोनू साहू को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार प्यारेलाल का ट्रक बिजली विभाग में चल रहा है। वह रोज अपना ट्रक बिजली गोदाम के पास खड़ा करता था। वहां आने-जाने के दौरान आसपास के लोगों से उसकी जान पहचान हो गई। गुढियारी का सोनू साहू (21)उनमें एक है। वह मजदूरी करता है। वह दो दिन पहले शहर से बाहर गया था। उसने अपनी बाइक गोदाम के पास रहने वाले 17 साल के नाबालिग को दी थी। सोनू गुरुवार की रात वापस आया। उसने सोनू को फोन किया और नाबालिग को बाइक लेकर स्टेशन आने को कहा। नाबालिग ने बाइक अपने एक दोस्त को दी थी। नाबालिग का दोस्त बाइक लेकर घूमने गया था, इसलिए वह उसे रेलवे स्टेशन नहीं ले जा सका। इस बात से सोनू बहुत नाराज था कि उसने बाइक दी उसके बाद भी उसे लेने के लिए रेलवे स्टेशन नहीं आया। रात में सोनू, नाबालिग, प्यारेलाल, दो और लोग पार्टी करने बैठे थे। इसी दौरान स्टेशन नहीं आने को लेकर साेनू गाली गलौज करने लगा। नाबालिग इस बार पर भड़क गया। उसके और सोनू के बीच जमकर विवाद हुआ। प्यारेलाल ने बीच बचाव किया और नाबालिग को वहां से जबरदस्ती खींचकर घर ले गया। उसके बाद भी विवाद शांत नहीं हुआ। वहां मौजूद अन्य दो लोगों ने सोनू के साथ मारपीट कर दी। सोनू इससे बहुत नाराज था।





वह गोदाम के पास आकर बैठ गया। प्यारेलाल नाबालिग को छोड़कर वापस लौट रहा था। सोनू ने उसे रोक लिया और उससे विवाद करने लगा कि वह नाबालिग को क्यों ले गया। उसने मारपीट शुरू कर दी। प्यारेलाल को सोनू ने बेदम पीटा। थोड़ी देर बाद सोनू के घर वाले आ गए और वे उसे जबरदस्ती वहां से ले गए। प्यारेलाल अपनी गाड़ी के पास आकर बैठ गया। दो घंटे बाद सोनू फिर आ गया। उसने फिर प्यारेलाल के साथ मारपीट शुरू कर दी। उसने प्यारे की दोबारा जमकर पीटा और वहां से भाग गया। प्यारेलाल वहीं पड़ा हुआ था किसी ने उसकी ओर ध्यान नहीं दिया। सुबह लोगों ने देखा तो उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस के अनुसार मारपीट में प्यारेलाल को अंदरुनी चोट आई है। इस कारण उसने दम तोड़ दिया। अगर उसे अस्पताल ले जाया जाता तो, वह बच जाता था। पुलिस ने शुक्रवार दोपहर सोनू को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार प्यारेलाल का 18 साल का बेटा है। वह परिवार के साथ दुर्गानगर में रहता था।

X
Durg News - chhattisgarh news the attack on the defending center left the goddess found dead in the morning
COMMENT