पानी बचाने के साथ भू जल स्तर को बढ़ाने से भविष्य होगा सुरक्षित:लहरे

Bhilaidurg News - जल है, कल है। इसलिए हमें न केवल पानी बचाने के प्रति जागरूक होना पड़ेगा, भूजल को रिचार्ज करने के लिए जितना भी कर सकें,...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 06:41 AM IST
Bhilai News - chhattisgarh news with the saving of water increasing the ground water level will secure the future
जल है, कल है। इसलिए हमें न केवल पानी बचाने के प्रति जागरूक होना पड़ेगा, भूजल को रिचार्ज करने के लिए जितना भी कर सकें, करना होगा। इसके लिए हर घर में वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम अनिवार्य रूप से होना चाहिए। यह जल संरक्षण की दिशा में सबसे सार्थक प्रयास होगा। इससे भविष्य भी सुरक्षित होगा।

यह बातें एमजे कालेज में आयोजित जल संरक्षण संगोष्ठी में निगम के सहायक आयुक्त तरूण पाल लहरे ने कही। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि बिलासपुर में अरपा नदी सुप्त रूप से बहती है। ऊपर से नदी सूखी हुई नजर आती है पर भीतर ही भीतर जल का स्रोत चलता है। उन्होंने बताया कि भूजल, मृदा जल का संबंध वनस्पति और वातावरण के तापमान से भी है। अब गर्मियों में वहां का तापमान 50 को छूने लगा है। यदि तापमान इससे भी ज्यादा ऊपर गया तो लोगों के लिए जीना मुश्किल हो जाएगा। कॉलेज के आईक्यूएसी सेल के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम में डायरेक्टर श्रीलेखा विरुलकर ने यदि किसी के घर में पानी व्यर्थ टपकता है या बहता रहता है तो उस घर में लक्ष्मी नहीं आती। उनकी दादी मानती थी, उनकी मां भी मानती रही हैं और वे स्वयं भी इसमें यकीन करती हैं।

जहां पानी बेकार बहता हो वहां लक्ष्मी नहीं आती

आयोजन के मुख्य वक्ता सिविल इंजीनियर मधुर चितलांग्या ने बताया कि विश्व का लगभग 75 फीसदी पानी है। लेकिन केवल एक फीसदी पानी ही उपयोग के लायक है। इसमें से कुछ पानी सतह पर है, जबकि शेष पानी भूजल के रूप में है। उन्होंने मृदा नमी और भूजल को संरक्षित करने के उपायों पर जोर देते हुए इसके विभिन्न प्रकारों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जल संरक्षण के लिए युवा पीढ़ी को जागरूक होना बेहद जरूरी है। कार्यक्रम का संचालन सहायक प्राध्यापक दीपक रंजनदास ने किया।

एमजे कॉलेज में जल संरक्षण संगोष्ठी के दौरान कॉलेज के छात्र-छात्राओं के साथ प्राध्यापक भी उपस्थित रहे।

छात्रों को शपथ भी दिलाई

निगम के शिक्षा अधिकारी राजेंद्र राव ने रोचक तरीके से जल के उपयोग, उसकी बचत और संरक्षण के उपायों की चर्चा की। उन्होंने कहा कि एमजे कालेज से लगकर एक बड़ा नाला बहता है। उससे जुड़कर कुछ प्रोजेक्ट करने चाहिए ताकि समुदाय को उसका लाभ हो। नोडल अधिकारी अजय शुक्ला ने शत प्रतिशत मतदान और जल संरक्षण की शपथ दिलाई।

X
Bhilai News - chhattisgarh news with the saving of water increasing the ground water level will secure the future
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना