छत्तीसगढ़ / लोन दिलाने के नाम पर ब्लैंक चेक लिए, बाउंस कराने की धमकी, 50 से ठगे 2 करोड़ रु से ज्यादा

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 12:43 PM IST


आरोपी संजय सोनी और सह आरोपी दुर्गा आरोपी संजय सोनी और सह आरोपी दुर्गा
X
आरोपी संजय सोनी और सह आरोपी दुर्गाआरोपी संजय सोनी और सह आरोपी दुर्गा

  • लोन देकर पांच गुना तक रकम वसूली, ब्लैंक चेक का इस्तेमाल करते थे हेराफेरी में 
  • कोर्ट से जमानत मिलने के बाद दोनों आरोपी संजय सोनी और सह आरोपी दुर्गा फरार 

दुर्ग. ब्लैंक चेक लेकर कामकाजी महिलाओं समेत जरूरतमंद लोगों को लोन देकर पांच गुना तक रकम वसूली गई। मुख्य आरोपी संजय सोनी ने  रैकेट बनाकार पूरी वारदात को अंजाम दिया। ठगी के शिकार लोगों में सब्जी बेचने वालों से लेकर संपन्न परिवार की कामकाजी महिलाएं तक शामिल हैं। मामले में 3 एफआईआर हो चुकी हैं। दर्जन भर पीड़ित सामने आ चुके हैं। भास्कर की पड़ताल में पीड़ितों की संख्या 50 से ज्यादा होने की बात सामने आई है। ये भी बताया कि आरोपी ने लोगों से 2 करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी की है।

रैकेट में 10 से 12 लोग शामिल, अपराध दर्ज होते ही कई लोगों के लौटाए चेक 

  1. जांच में जुटे पुलिस अधिकारियों ने बताया कि फास्ट बैंकिंग नाम से फर्जी बैंक चलाने वाले संजय सोनी रैकेट बनाकर ब्याज वसूली का काम करता था। फील्ड में उसके अलावा सह आरोपी महिला ही आगे आती थी। शिकायत के बाद वह रकम लौटा रहा है। आरोपी संजय लोगों को ब्याज पर रकम देने के अलावा सट्टा भी खिलवाने का काम करता है। चौहान टाउन में लिखी जाने वाली सट्टा-पट्टी पर कुछ महीने पहले पुलिस कार्रवाई की थी। 

  2. अलग अलग कहानी सुना कर देता था झांसा 

    अपराध पंजीबद्ध कराने वाली पीड़िताओं‌ ने बताया, महिलाओं को अपने झांसे में लेने के लिए सह आरोपी दुर्गा विश्वकर्मा को उनके घर और दुकान पर भेजता था। लोन लेने वालों को अलग-अलग कहानी सुनाकर झांसे में लेता था। इसी दौरान वो ब्लैंक चेक ले लेता था। उसी चेक का इस्तेमाल हेराफेरी में करता था। 

  3. लोन के पैसे से ही कमीशन काट लेता था 

    जेवरा-सिरसा की निधि दुबे ने बताया कि सात महीने पहले पार्लर का काम बढ़ाने के लिए चार चेक देकर दो लाख रुपए का लोन पास कराया। चेक हाथ में आने के अगले दिन आरोपी ने बिना बताए 60 हजार रुपए काटकर उसे 1.40 लाख रुपए दिए। बहस होने पर भी लोन कैंसिल नहीं किया। महीने भर तक वसूली करता रहा। 

     

    सामने आई पीड़िताओं से वसूल किए 5 गुना तक

    • सुनैना : 60 हजार रुपए देकर आरोपी ने वसूले 1.40 लाख रुपए 
    • पुष्पा सिंह : 1.40 लाख रुपए देकर वसूले 5.50 लाख रुपए 
    • निधि दुबे : 1.40 लाख देकर आरोपी ने वसूल लिए 06 लाख रुपए 

  4. कोर्ट से अग्रिम जमानत मिलते ही हुआ फरार 

    पिछले गुरुवार को संजय सोनी और दुर्गा विश्वकर्मा के खिलाफ जेवरा-सिरसा चौकी में दर्ज हुआ। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया। कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया। उसी समय आरोपी अग्रिम जमानत लेकर बाहर आ गया। उसके बाद दो और अपराध दर्ज हो गए। उसके बाद फरार है। 

  5. छेड़छाड़ की भी शिकायत मिली है, पीड़ित आगे आएं 

    सूदखोरी के आरोपी में आरोपी संजय सोनी के खिलाफ सुपेला-जेवरा सिरसा में अपराध पंजीबद्ध किया गया है। साथ ही एक महिला ने उसपर पैसे की वसूली के छेड़छाड़ की भी शिकायत दर्ज कराई है।

    रोहित झा, एडिशनल एसपी सिटी 

COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543