दर्दनाक / शादी के अगले दिन दूल्हे की करंट लगने से मौत, दुल्हन सदमे में बेहोश

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 01:27 PM IST


एक दिन पहले : दूल्हा भुवन, बगल में पत्नी यशुमति, बहन रेशमा और दामाद प्रमोद। एक दिन पहले : दूल्हा भुवन, बगल में पत्नी यशुमति, बहन रेशमा और दामाद प्रमोद।
X
एक दिन पहले : दूल्हा भुवन, बगल में पत्नी यशुमति, बहन रेशमा और दामाद प्रमोद।एक दिन पहले : दूल्हा भुवन, बगल में पत्नी यशुमति, बहन रेशमा और दामाद प्रमोद।

  • दूल्हे और उसकी बहन की शादी एक ही दिन एक ही मंडप में हुई थी 
  • परिजन बेटी की ससुराल में चौथ लेकर गए थे, घर में कुछ मेहमान थे
  • दूल्हा स्विच ऑन कर डाल रहा था पानी, अचानक कूलर से चिपक गया 

बालोद. शादी के अगले दिन दुल्हन को विदा कर लाने के बाद दूल्हा घर में मेहमानों के लिए कूलर लगा रहा था। वो स्विच ऑन करके उसमें पानी डाल रहा था तभी करंट उतर गया और वो उसमे चिपक गया। मेहमानों ने मेन स्विच से लाइट काटकर कूलर से छुड़ाया और अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टर ने दूल्हे को मृत घोषित कर दिया।

दुल्हन सदमे में हो गई बेहोश

  1. पत्नी

    गुंडरदेही ब्लॉक के ढाबाडीह (पसौद) गांव में एक दिन पहले शादी के फेरे लेकर लौटे दूल्हे भुवन लाल उर्फ दुर्गेश सार्वा (28) की कूलर में पानी भरते समय करंट लगने से मौत हो गई। पानी भरते वक्त कूलर का स्विच ऑन था। सिर्फ कूलर का बटन बंद कर पानी भर रहा था। उस समय घर में मृतक की नई दुल्हन यशुमति और दादी हेमिन बाई मौजूद थीं। घर के बाकी सभी सदस्य बहन रेशमा के ससुराल चौथिया में गए हुए थे। इधर इस दर्दनाक हादसे के बाद पत्नी यशुमति सदमे में बेहोश है। उसका इलाज बालोद के स्वास्थ्य संचय अस्पताल में चल रहा है।

  2. दोपहर 1 बजे थी चौका पूजा, उसी वक्त उठी दूल्हे की अर्थी

    कूलर

    करंट से दूल्हे की मौत के बाद सार्वा परिवार के साथ पूरे गांव ढाबाडीह में शोक है। शादी वाले घर में मंडप तो सजा है पर आंगन में खुशी का माहौल नहीं मातम पसरा हुआ है। बारात जाने से पहले दूल्हा घर के आंगन में तुलसी की पूजा कर निकला था। नई दुल्हन लाने के बाद गुरुवार को घर में पूजा होनी थी। ताकि नई जिंदगी की शुरुआत कर सके, लेकिन यही दिन भुवन की जिंदगी का आखिरी दिन बन गया। बुधवार को बहन रेशमा के घर सभी चौथिया गए थे। गुरुवार को दोपहर एक बजे घर में चौका पूजा होने वाली थी। उसी वक्त भुवन की अर्थी उठी।

  3. खेती किसानी करते हैं पिता, छोटे बेटे की अभी नहीं हुई शादी

    मृतक भुवन के पिता द्वारिका सार्वा खेती किसानी करते हैं। उनकी मां शारदा बाई गृहिणी है। एक साथ बड़े बेटे भुवन और बेटी रेशमा की शादी एक ही मंडप में हुई। छोटा भाई प्रमेंद्र भी अपने बड़े भैया के साथ कंप्यूटर सेंटर चलाता है। शिक्षक लालेश्वर सिन्हा ने कहा कि भुवन बहुत ही व्यवहारिक और मिलनसार इंसान था। उनके खोने का गम पूरे गांव को है। यह बहुत ही दुखद घटना है।

  4. दुल्हन होश आने पर कहती है पति को देखने जाऊंगी

    जब रात करीब 8:30 बजे पति को निजी अस्पताल में लाया गया तो डॉक्टर ने कहा इनकी तो डेथ हो चुकी है। इसके 15 मिनट बाद दुल्हन को भी इसी अस्पताल में लाया गया। इस घटना से वो सदमे में बेहोश थी। जब भी होश आया तो यही पूछती थी कि मुझे मेरे पति के पास जाना है, उन्हें देखना है, वह किस हाल में हैं। मायके पक्ष के लोग उन्हें समझा रहे थे कि उनका इलाज चल रहा है। कुछ नहीं हुआ है। पति से मिलने की जिद और चिंता के साथ बार-बार पत्नी बेहोश हो रही थी।

  5. दादी ने कहा- मैंने देखा कि भुवन कूलर से चिपका है

    रिश्ते में दादी लगने वाली हेमिन बाई ने कहा कि मैं बगल के कमरे में थी। पोता भुवन बरामदे में लगे कूलर में पानी डाल रहा था। नई बहू आंगन में बर्तन धो रही थी। अचानक फड़फड़ाने की आवाज आई। मैं कमरे से बाहर आई तो भुवन कूलर से चिपका था। उसके हाथ में एक बर्तन भी था। उसमें भी करंट था। बहू और मैंने आसपास के लोगों को शोर मचाकर बुलाया और तत्काल किसी ने मेन स्विच बंद किया। तब जाकर हम भुवन को कूलर के पास से हटा पाए पर वह बेहोश हो गया था।

  6. कूलर पर ही लिखे रहते हैं निर्देश

    कूलर पर इस्तेमाल को लेकर सावधानी और निर्देश लिखे रहते हैं। हमेशा सिर्फ थ्री पिन प्लग प्रयोग करें। बिना पानी के पंप चालू ना करें। कूलर की नियमित सफाई करें। चालू कूलर को स्पर्श ना करें। बरसात के मौसम में पंप का इस्तेमाल ना करें। कूलर में पानी डालते वक्त पूरी तरह से प्लग निकाल दें ताकि करंट लगने का कोई खतरा ही ना हो। चलते कूलर के पास छोटे बच्चों को भी न जाने दें। ऐसी सावधानी बरतने के बाद ही इस तरह के हादसे रोके जा सकते हैं।

COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543