हाईकोर्ट / महादेव हत्याकांड में तपन समेत 8 की उम्रकैद की सजा बरकरार



High Court sentenced life imprisonment to 8 including Tapan in  Mahadev murder
X
High Court sentenced life imprisonment to 8 including Tapan in  Mahadev murder

  • 13 में से शैलेंद्र समेत पांच आरोपियों को बरी किया
  • तपन और महादेव में वर्चस्व की लड़ाई थी, जिम जाते समय मारा 

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 01:23 AM IST

दुर्ग/बिलासपुर. बहुचर्चित महादेव महार हत्याकांड में मामले में बिलासपुर हाईकोर्ट ने तपन सरकार सहित 8 लोगों की उम्रकैद की सजा बरकरार रखी है। वहीं शैलेंद्र ठाकुर सहित 5 लोगों को बरी कर दिया। 11 फरवरी 2005 को हुए इस हत्याकांड में पुलिस ने गैंगस्टर तपन सरकार समेत 33 लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया था। लेकिन डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में सुनवाई के दौरान केवल 13 आरोपियों पर दोष सिद्ध हो सका था।


घटना के करीब दस साल बाद 2015 में दुर्ग जिला एवं सत्र न्यायालय ने आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। आरोपियों ने फैसले को चुनौती देते हुए हाईकोर्ट में अपील की थी। इस पर शुक्रवार को फैसला आया। मामले में तपन सरकार सहित अन्य 8 लोगों की अपील को खारिज करते हुए हाईकोर्ट ने उम्रकैद सजा बरकरार रखी। वहीं शैलेंद्र सिंह ठाकुर, पीतांबर साहू, रणजीत सिंह, छोटू उर्फ कृष्णा राजपूत और बिज्जू उर्फ महेश को बरी कर दिया।

 

तपन सरकार व महादेव महार में वर्चस्व की लड़ाई थी। हत्या की यही मुख्य वजह बनी। 11 फरवरी 2005 की सुबह करीब साढ़े छह बजे महादेव महार जिम जाने के लिए घर से निकला था। तभी तपन सरकार, सत्यन माधवन, गोविंद विश्वकर्मा सहित अन्य 18 आरोपी वहां पहुंचे और हत्या कर भाग खड़े हुए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना