छत्तीसगढ़  / सीएमएचओ दफ्तर से सांठ गांठ कर जारी था गर्भपात करने का खेल, डॉक्टर ने किया खुलासा



फाइल फोटो फाइल फोटो
X
फाइल फोटोफाइल फोटो

  • भिलाई के चिखली स्थित एसआर अस्पताल का मामला
  • चांपा की स्त्री रोग विशेषज्ञ के डॉक्यूमेंट के आधार पर हो रही थी मनमानी 

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2019, 11:47 AM IST

भिलाई. छत्तीसगढ़ के भिलाई शहर में एक अस्पताल मनमाने तरीके से गर्भपात करने का खुलासा हुआ है। खास बात यह कि जिस डॉक्टर के नाम पर चिखली स्थित एसआर अस्पताल यह सब कर रहा था, उसी की शिकायत पर यह खुलासा हुआ। दरअसल अस्पताल ने डॉक्टर को बतौर स्त्री रोग विशेषज्ञ नौकरी देने की बात कही थी। डॉक्टर ने अपने दस्तावेत सीएमएचओ दफ्तर में देकर गर्भपात करने की इजाजत ले ली। महिला डॉक्टर ने शिकायत में कहा कि उन्होंने एसआर अस्पताल में ज्वाइन ही नहीं किया औ उनके पर गर्भपात किए जा रहे हैं।

कलेक्टर ने लिया मामले पर संज्ञान, मांगी रिपोर्ट 

  1. इस पूरे फर्जीवाड़े की शिकायत महिला डॉक्टर ने कलेक्टर से की है। कलेक्टर ने मामले की जानकारी मिलते ही  तत्काल सीएमएचओ डॉ. गंभीर सिंह को कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए।  दरअसल मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेगनेंसी एक्ट-1971  के तहत गर्भपात वहीं हो सकता है, जिस सेंटर पर फूल टाइमर गाइनिक (स्त्री रोग विशेषज्ञ) की सुविधा हो। इसके उलंघन पर दो से लेकर सात वर्ष की सजा का प्रावधान है। बावजूद इसके दुर्ग जिले में एमटीपी एक्ट की जिम्मेदारों से साठ-गांठ कर धज्जियां उड़ाई जा रही है। 
     इस पूरे खेल के सामने आने के बाद भी लापरवाही जारी है। चूंकि मामले में जांच का जिम्मा सीएमएचओ दफ्तर के पार ही है, ऐसे में अस्पताल प्रबंधन से पूछ-ताछ वही अधिकारी कर रहे हैं, जिनपर इस सांठ गांठ का आरोप लग रहा है। शिकायत के सामने आने के बाद अस्पताल के प्रबंधक संजय तिवारी  ने अपने बचाव में कहा कि डॉक्टर ने वहां ज्वाइन किया था। उनसे कंसल्ट लेने के बाद हमने दस्तावेज सीएमएचओ दफ्तर में जमा करा दिए थे। हमारा समय खराब चल रहा, इसलिए सभी आरोप लगा रहे हैं। 

  2. इस पूरे खेल के सामने आने के बाद भी लापरवाही जारी है। चूंकि मामले में जांच का जिम्मा सीएमएचओ दफ्तर के पार ही है, ऐसे में अस्पताल प्रबंधन से पूछ-ताछ वही अधिकारी कर रहे हैं, जिनपर इस सांठ गांठ का आरोप लग रहा है। शिकायत के सामने आने के बाद अस्पताल के प्रबंधक संजय तिवारी  ने अपने बचाव में कहा कि डॉक्टर ने वहां ज्वाइन किया था। उनसे कंसल्ट लेने के बाद हमने दस्तावेज सीएमएचओ दफ्तर में जमा करा दिए थे। हमारा समय खराब चल रहा, इसलिए सभी आरोप लगा रहे हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना