अंधविश्वास / इलाज के नाम पर बच्ची के गले में लपेटा सांप, डंसने से मौत

यह तस्वीर प्रतीकात्मक है। यह तस्वीर प्रतीकात्मक है।
X
यह तस्वीर प्रतीकात्मक है।यह तस्वीर प्रतीकात्मक है।

  • सपेरे ने परिजनों से कहा था- घबराइए मत, इसके जहर के दांत निकल दिए हैं

Oct 16, 2018, 01:44 PM IST

राजनांदगांव. शहर के सिंगदई वार्ड में परिवार के अंधविश्वास के कारण दूधमुंही बच्ची की जान चली गई है। दरअसल एक संपेरे ने इलाज के नाम पर बच्ची के गले में जहरीला सांप पहना दिया। तभी सांप ने बच्ची के कंधे में डंस लिया। बच्ची को अनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। 

सांप ने काटा तो संपेरा बोला- इसके जहर के दांत निकाल दिए हैं, घबराइए मत

सिंगदई निवासी रघुनाथ के यहां 5 महीने पहले ही खुमांशी ने जन्म लिया। रविवार दोपहर 12 बजे के करीब एक संपेरा आया और उसने बच्ची के गले में जहरीला सांप लपेटकर उसे ठीक करने का दावा करने लगे। परिजन भी झांसे में आ गए। सपेरे बिल्लू ने नाग को बच्ची के गले में डाल दिया। 

तभी नाग ने बच्ची के कंधे में डस लिया। इस पर बिल्लू ने परिजन से कहा कि उसने सांप के दांत निकाल दिए हैं, जहर नहीं लगा है और झाड़फूंक करने लगा। डेढ़ दो घंटे में बच्ची की तबियत बिगड़ गई। शाम 6 बजे परिजन उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल लेकर आए। 

यहां बच्ची की मौत हो गई। जानकारी मिलते ही आसपास के लोगों ने उसी रात सेपेरे को पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने सपेरा बिल्लू राम मरकाम (50) निवासी ग्राम हल्दी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे हिरासत में ले लिया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना