पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रेलवे का ऑफिस सुपरिटेंडेंट 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
एसीबी ने रेलवे के ऑफिस सुपरिटेंडेंट को घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। - Dainik Bhaskar
एसीबी ने रेलवे के ऑफिस सुपरिटेंडेंट को घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया।
  • साउथ ईस्ट सेंट्रल रेलवे के भिलाई स्थित कार्यालय में एसीबी की कार्रवाई
  • ट्रैकमैन ग्रेड-4 का टीए बिल पास करने की एवज में मांगे थे 25 हजार रुपए

भिलाई. छत्तीसगढ़ के भिलाई स्थित साउथ ईस्ट सेंट्रल रेलवे (एसईसीआर) कार्यालय में साेमवार को एसीबी ने ऑफिस सुपरिटेंडेंट को 10 हजार रुपए की रिश्तव लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। ऑफिस सुपरिटेंडेंट एस. भट्टाचार्या ने ट्रैकमैन ग्रेड 4 कर्मचारी का टीए बिल पास करने के एवज में 25 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। फिलहाल एसीबी की ओर से कार्रवाई जारी है। प्रदेश में यह पहला मामला है जब किसी केंद्रीय कर्मचारी को रिश्वत लेते एसीबी ने रंगे हाथ पकड़ा है। 


जानकारी के मुताबिक, जवाहर नगर भिलाई निवासी एसईसीआर में ट्रैकमैन ग्रेड 4 के पद पर कार्यरत हैं। आरोप है कि उनका टीए बिल सुचारू करने और यूएसएफडी मशीन से मैदानी इलाके में ट्रांसफर नहीं करने की एवज में ऑफिस सुपरिटेंडेंट एस. भट्टाचार्या ने 25 हजार रुपए की मांग की थी। इसको लेकर उन्होंने सीबीआई रायपुर में शिकायत दर्ज कराई थी। सीबीआई की ओर से इसमें कार्रवाई करने के लिए एसीबी को निर्देशित किया गया। वहीं एक अन्य शिकायत फिर से 17 फरवरी को फिर की गई।

एसीबी ने शिकायत की पुष्टि करने के बाद ट्रैप का आयोजन किया। ट्रैप में पहली किश्त के रूप में 10 हजार रुपए देना तय हुआ। तय समय पर डीएसपी डॉ. प्रशांत शुक्ला के नेतृत्व में टीम भिलाई स्थित रेलवे के कार्यालय पहुंच गई। वहां जैसे ही ट्रैकमैन ने 10 हजार रुपए दिए, वैसे ही एसीबी टीम ने  ऑफिस सुपरिटेंडेंट भट्‌टाचार्य को रंगे हाथ धर दबोचा। एसीबी की ओर से आगे की कार्रवाई अभी जारी है। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

और पढ़ें