पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Bilaspur 45000 Bottles Of Rail Neer Produced Every Day, Demand Is 31000, Still Sell Local Water

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

45 हजार बोतल रेलनीर रोज उत्पादन, मांग सिर्फ 31 हजार की फिर भी बिक रहा लोकल पानी

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिलासपुर से झारसुगुड़ा, शहडोल व नागपुर रूट के 100 से ज्यादा स्टेशनों पर सप्लाई नहीं
  • कमीशन का खेल : रेलवे अफसर ऐसे हालात उत्पन्न करते हैं जिससे स्टेशनों तक न पहुंचे रेलनीर 

अब्दुल रिजवान। बिलासपुर. बिलासपुर से झारसुगुड़ा, शहडोल और नागपुर रूट के बीच के 100 से अधिक स्टेशनों तक रेल नीर की सप्लाई नहीं हो रही है। इसकी जगह यात्रियों में लोकल ब्रांड का पानी खपाया जा रहा है। जानकारों का कहना है कि लोकल ब्रांड का पानी खपाने की एवज में अफसरों को एक निश्चित कमीशन मिलता है, जिसके लिए वह ऐसे हालात उत्पन्न करते हैं कि रेलनीर यात्रियों और डिमांड वाले स्टेशनों तक पहुंच ही न सके। कुछ अफसरों की मिलीभगत के चलते भारतीय रेलवे की अहम योजना को बट्टा लग रहा है।

1) 10 करोड़ की लागत से बनाया गया है प्लांट, अफसर ने माना सप्लाई में समस्या है 

 10 करोड़ की लागत से मार्च 2017 में सिरगिट्टी में रेलनीर का प्लांट स्थापित किया गया। उद्देश्य था ट्रेनों में शुद्ध पानी की सहज सप्लाई। बिलासपुर मंडल के सीनियर डीसीएम पुलकित सिंघल का कहना है कि रेलनीर प्लांट में डिमांड से ज्यादा उत्पादन है, लेकिन समस्या उसकी सप्लाई में आ रही है। आईआरसीटीसी ने सप्लाई का नया ठेका कर दिया है। दो-तीन दिन में पानी बोतल सभी जगह पहुंचने लगेंगी। इस पर लगातार नजर रख रहे हैं। 

एक बोतल में सात रुपए ज्यादा, यात्रियों को मिलता ही नहीं रेलनीर रेल नीर 12 बोतल का बाक्स 120 रुपए में स्टाल व पेंट्रीकार संचालकों को मिलता है। इसमें ट्रांसपोर्टिंग चार्ज अलग है। इसे 15 रुपए में बेचना होता है। ऐसे में एक बोतल में महज 1 या 2 रुपए ही बचता है। जबकि लोकल ब्रांड का पानी उन्हें 80 व 90 रुपए बाक्स की दर से मिलता है। इसे वे बेधड़क 20 रुपए प्रति बोतल के हिसाब से बेचते हैं। इसमें उन्हें 6 से 7 रुपए की अधिक कमाई होती है। इसलिए हर कोई लोकल ब्रांड का पानी बोतल ही बेचना पसंद करता है। लोकल ब्रांड की सप्लाई के खेल में अफसरों की भी भूमिका होती है।

बीकानेर एक्सप्रेस में सफर कर रही सावित्री वर्मा का कहना है कि ट्रेन में रेलनीर मिलता ही नहीं है। गर्मी इतनी है कि कोई भी पानी बोतल मिले लेना पड़ता है। किसी भी ब्रांड का पानी बोतल लो वह तो 20 रुपए में ही मिलता है। रेल नीर सस्ता है लेकिन रेलवे इसे उपलब्ध नहीं करवा पा रही है। प्रवीण पांडे का कहना है जितने भी ब्रांड के पानी बोतल मिलते हैं उसमें कोई फर्क नहीं लगता है। रेलनीर मिलता तो अवश्य लेते, लेकिन मिलता ही नहीं है। 

बिलासपुर जंक्शन प्लेटफार्म के स्टालों पर रेलनीर की बोतल ही नजर आती है। लोकल ब्रांड रखने की अनुमति नहीं है। जनआहार, कमसम, फूड प्लाजा सहित 30 स्टालों में प्रतिदिन 600 बाक्स यानि कि 7200 बोतल रेलनीर की खपत है। आईआरसीटीसी के पास 1500 बाक्स की डिमांड है जो गर्मियों में बढ़कर 2600 बाक्स यानि 31 हजार 200 बोतल तक पहुंच गई है। 

सिरगिट्टी में प्रतिदिन 3800 बाक्स यानि 45 हजार बोतल का उत्पादन हो रहा है। इसके बावजूद यदि स्टेशनों तक रेलनीर नहीं पहुंच रहा है तो इसकी वजह सप्लायर है। रेलनीर की सप्लाई सड़क मार्ग से स्टेशनों तक करने का ठेका दिया जाता है। लोकल ब्रांड का पानी ट्रेनों तक पहुंचाने की गरज से अनियमितता का कारण दर्शाते हुए सप्लाई का ठेका पिछले महीने निरस्त कर दिया। नए ठेके के लिए प्रक्रिया चल रही है। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser