पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आपत्तिजनक फोटो वायरल करने की धमकी से तंग आकर छात्रा ने की आत्महत्या

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • रामानुजगंज में युवक कर रहा था एमएससी की छात्रा को ब्लैकमेल
  • युवती की मौत से गुस्साए लोगों ने किया चक्काजाम, आरोपी फरार 

बलरामपुर. रामानुजगंज थाना क्षेत्र में एक छात्रा ने सोमवार रात आपत्तिजनक फोटो वायरल करने की धमकी से तंग आकर आत्महत्या कर ली। इससे पहले युवती बार-बार आरोपी युवक से फाेटो वायरल नहीं करने की गुहार लगाती रही। छात्रा की मौत से गुस्साए लोगों ने चक्काजाम कर दिया और आरोपी की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। वहीं आरोपी अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है। 

1) व्हॉट्सएप पर भेजा स्क्रीन शॉट, दी अपलोड करने की धमकी

जानकारी के मुताबिक, रामानुजगंज के वार्ड क्रमांक-1 में अस्पताल के बगल में रहने वाली 23 वर्षीया छात्रा के मोबाइल पर सोमवार को एक आपत्तिजक स्क्रीन शॉट आया। साथ ही भेजने वाले आरोपी वार्ड क्रमांक-13 में रहने वाले फिरदौस आलम ने उसे वायरल करने की धमकी दी। 

स्क्रीन शॉट देखते ही छात्रा काफी देर तक आरोपी फिरदौस से फोटो वायरल नहीं करने की बात कहते हुए गिड़गिड़ाती रही। इस दौरान दोनों की काफी देर तक व्हॉट्सएप पर चैटिंग भी हुई। छात्रा ने आरोपी से यह तक कहा कि चाहे तो उसकी जान ले ले, लेकिन बदनाम मत करो। 

बावजूद इसके आरोपी फिरदौस उसे लगातार धमकी देता रहा। काफी देर की बातचीत के बाद दोपहर करीब  12.46 बजे अंतिम मैसेज लिखकर छात्रा ने घर में ही फांसी लगाकर जान दे दी। बेटी को फंदे से लटका देख परिजन ने उसे नीचे उतारा और अस्पताल ले गए, लेकिन चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। 

युवती शासकीय लरंगसाय स्नातक महाविद्यालय में एमएससी की छात्रा थी और पढ़ाई में काफी होनहार थी। वह एमएससी के साथ ही उड़ान कोचिंग से पीएससी की तैयारी कर रही थी। इस घटना से मृतक के परिजन सदमे में हैं। वहीं रामानुजगंज पुलिस मामले में मर्ग कायम कर जांच में जुट गई है।फिलहाल आरोपी युवक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। 

इस घटना के बाद से स्थानीय निवासी काफी भड़क गए। उन्होंने एनएच 343 पर चक्काजाम कर दिया। इस दौरान पुलिस उनको समझाने के लिए भी पहुंची। काफी देर समझाइश के बाद लोग माने, लेकिन उनका कहना था कि आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने तक छात्रा का अंतिम संस्कार नहीं होगा।